सुशांत सिंह केस: BJP नेता शांता कुमार ने सुब्रह्मण्यम स्वामी से की बात, कंगना को बताया बहादुर बेटी
Dharamsala News in Hindi

सुशांत सिंह केस: BJP नेता शांता कुमार ने सुब्रह्मण्यम स्वामी से की बात, कंगना को बताया बहादुर बेटी
हिमाचल के पूर्व सीएम और भाजपा नेता शांता कुमार ने सुशांत सिंह केस पर प्रतिक्रिया दी है.

हिमाचल के पूर्व सीएम ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या पर पुलिस गंभीरता से जांचकर रही है. सरकार के लिये बहुत बड़ी चुनौती है. इस संबध में पूरी जांच से दोषियों को पकड़ा जाना चाहिये.

  • Share this:
पालमपुर (कांगड़ा). भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता एवं हिमाचल प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार (Shanta Kumar) ने सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि सिनेमा जगत के एक होनहार उदयीमान युवा सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajpoot) की आत्महत्या (Suicide) पर प्रतिदिन नये-नये रहस्यों के पर्दे खुल रहे हैं. सिनेमा (Cinema) जगत से उनका ना अधिक लगाव है, ना ही परिचय, लेकिन देश की इस होनहार युवा प्रतिभा की आत्महत्या ने उन्हें भी हिला दिया है.
उन्होंने कहा कि उनकी रूची बढ़ी और इस सम्बन्ध में सोशल मीडिया पर बहुत कुछ सुना. विशेष कर कंगना रनौत को सुनकर हैरानी परेशानी और ख़ुशी भी हुई. आप की अदालत में कंगना को विस्तार से सुना यहां तक कि दोबारा सुना. कितनी बहादुर लड़की है. कितना बेबाक बोलती है. चेहरे पर ही नहीं, शब्दों से भी आत्मविश्वास झलकता है. शांता ने कहा कि पहली बार उन्होंने सुना कि मूवी माफिया भी है. उन्हें कंगना की बातें सुनकर बहुत आनन्द आया.

कंगना पर गर्व है
शांता ने कहा कि यह सोचकर गर्व हुआ कि आखिर अपने हिमाचल की एक बहादुर बेटी है. हिमाचल के गांव से उठकर अपनी प्रतिभा व हिम्मत से इतना ऊंचा स्थान प्राप्त किया है. इस बात की भी प्रसन्नता है कि मूवी जगत के इतने ऊंचे पद पर पहुंच कर भी वह अपनी जड़ें हिमाचल से जुड़ी है और मकान मनाली में बनाया. अपनी नानी के पास आकर पतरोड़े भी खाती है. उसे हार्दिक बधाई शुभकामनायें.
साहित्य जगत में भी कुछ मठाधीश गुटबाज
शांता कुमार ने कहा कि साहित्य जगत में भी कुछ मट्ठाधीश गुटवाज ऐसे हैं, जो यह प्रबंध करते हैं कि किस को सम्मान दिलवाना है और किसको पीछे रखना है. हिन्दी जगत की सबसे अधिक पढ़ी जानेवाली उपन्यास कार शिवानी को कभी कोई बड़ा पुरुस्कार नहीं मिला. उन्होने कहा कि एक बार उनका उनसे मिलना हुआ तो वह कहने लगी थी कि कभी सोचा भी नहीं पुरुस्कार के बारे में. मेरे पाठकों का मेरे प्रति प्यार ही सबसे बड़ा सम्मान है.



राजनीति पर भी बोले शांता
उन्होंने कहा कि देश की राजनीति में भी बहुत कुछ इस प्रकार चल रहा है। आज से लगभग 60 वर्ष पहले जब वह राजनीति में आये तो समर्पण, योग्यता और चरित्र के कारण स्थान और सम्मान मिलता था. अब प्रबंधन, तिकड़म परिवारवाद और चादुकारिता सबसे बड़ी योग्यता हो गई है. कई जगह जीरो, हीरो हो गये हैं और हीरो, जीरो हो गये हैं.

पुलिस कर रही जांच
हिमाचल के पूर्व सीएम ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या पर पुलिस गंभीरता से जांचकर रही है. सरकार के लिये बहुत बड़ी चुनौती है. इस संबध में पूरी जांच से दोषियों को पकड़ा जाना चाहिये. उन्हें प्रसन्नता है कि कंगना पुलिस में गवाही दे रही है और प्रसिद्ध नेता व वकील सुब्रह्मण्यम स्वामी उस में सहायता कर रहे है. स्वामी जी मेरे पुराने मित्र हैं. मैंने आज उनसे फोन पर बात की है. उन्होंने विश्वास दिलाया है कि वे इस में उनकी पूरी सहायता करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading