Home /News /himachal-pradesh /

Himchal Politics: अति उत्साह से हारे उपचुनाव, कैबिनेट में नहीं होगा फेरबदल: मंत्री पठानिया

Himchal Politics: अति उत्साह से हारे उपचुनाव, कैबिनेट में नहीं होगा फेरबदल: मंत्री पठानिया

अब कैबिनेट मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि अति आत्मविश्वास से उप चुनाव हारे हैं. लेकिन अब 2022 जीत की तैयारी में भाजपा सरकार जुट गई है.

अब कैबिनेट मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि अति आत्मविश्वास से उप चुनाव हारे हैं. लेकिन अब 2022 जीत की तैयारी में भाजपा सरकार जुट गई है.

Himachal by elections: हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव के लिए चार सीटों पर भाजपा की करारी हार हुई थी. भाजपा को हार से करारा झटका लगा था. अब हार को लेकर भाजपा नेताओँं के बयान सामने आ रहे हैं. हार की वजहों को जिक्र किया जा रहा है. पठानिया ने कहा कि उप चुनाव में हार के क्या कारण रहे, इन सब बातों को लेकर शिमला में होने वाली प्रदेश भाजपा कार्यसमिति की बैठक में चर्चा भी होगी.

अधिक पढ़ें ...

धर्मशाला. हिमाचल उपचुनाव (Himachal by elections) में सूपड़ा साफ होने के बाद अब भाजपा के मंत्री और हार की वजहें बताने लगे हैं. सीएम जयराम ने जहां वीरभद्र सिंह के नाम पर सहानुभूति फैक्टर और महंगाई को हार का कारण बताया था. वहीं, अब कैबिनेट मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि अति आत्मविश्वास से उप चुनाव हारे हैं. लेकिन अब 2022 जीत की तैयारी में भाजपा सरकार जुट गई है. इस हार से सबक लेते हुए भाजपा अब 2022 की तैयारी को लेकर आगे है.

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं जेपी नड्डा, शांता कुमार, प्रेम कुमार धूमल सहित अन्य वरिष्ठ नेतृत्व एकजुट होकर पार्टी को संभाले हुए है. उप चुनाव में हार के क्या कारण रहे, इन सब बातों को लेकर शिमला में होने वाली प्रदेश भाजपा कार्यसमिति की बैठक में चर्चा भी होगी.

और क्या बोले पठानिया
मंत्री पठानियां ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में ही लड़े जाएंगे. उन्होंने इन अफवाहों का खंडन भी किया है कि प्रदेश मंत्रिमंडल में कोई फेरबदल नहीं हो रहा है. राकेश पठानिया ने कहा कि धर्मशाला में उन्होंने केंद्रीय विश्वविद्यालय व कांगड़ा हवाई अड्डा विस्तार को लेकर भी अधिकारियों से चर्चा की है. धर्मशाला जदरांगल में 25 हैक्टेयर भूमि सीयू के नाम है. धर्मशाला व देहरा में एक साथ ही निर्माण कार्य भी शुरू होंगे. जहां तक बात कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तार को लेकर है, सरकार इसके प्रति गंभीर है. शीघ्र ही हवाई अड्डे का विस्तार होगा. इसे लेकर प्रदेश सरकार केंद्र से दिसंबर माह में मामला उठाने जा रही है. उन्होंने कहा कि नगर निगम में कई पदों के रिक्त होने की जानकारी उन्हें भी है, सरकार से इस मामले को उठाया जाएगा, ताकि लोगों को अपने कामों के लिए किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े.

पठानिया ने कहा कि प्रदेश में वन कटान (खुदरो दरख्तान) को लेकर अब पांच वर्षीय योजना पर कार्य होगा.इससे जमींदारों को भी लाभ मिलेगा. पहले दस वर्ष बाद पेड़ कटान की अनुमति होती थी. वन मंत्री राकेश पठानिया ने धर्मशाला में पत्रकार वार्ता में कहा कि इस योजना के शुरू होेने से लाभ रहेगा वहीं वन भूमि में एफसीए व एफआए को खत्म करने की अपील भी सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी, ताकि विकास कार्यों में अड़ंगा बनने वाली वन भूमि से लोगों को निजात मिल पाए. पठानिया ने कहा कि जिला कांगड़ा, हमीरपुर, ऊना व बिलासपुर में शीघ्र ही सदा बहार आम की पौध भी बागवानों को दी जाएगी.

उन्होंने बताया कि इस योजना को लेकर विभाग द्वारा काम किया जा रहा है और आने वाले दो महीनों के भीतर ही मुख्यमंत्री योजना का शुभारंभ करेंगे. उन्होंने बताया कि यह सदाबहार आम वर्ष में दो बार फल देगा. इस पूरी परियोजना का खाका तैयार किया जा रहा है. ऐसे ही अमरूद व संतरे के उत्पादन के विविधिकरण को लेकर भी योजना तैयार की जा रही है. सदा बहार आम के पौध लगने से किसान व बागवानों सहित युवाओं को भी रोजगार के अवसर प्रदान होंगे. इस आम के पौधे को कम भूमि या फिर लोग अपने गमलों में भी लगा सकेंगे.

Tags: Himachal election, Himachal Government, Himachal Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर