लाइव टीवी

हत्या या हादसा! धर्मशाला में टैक्सी ड्राइवर की संदिग्ध मौत में चौंकाने वाला खुलासा
Dharamsala News in Hindi

Bichitar Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: March 19, 2020, 10:44 AM IST
हत्या या हादसा! धर्मशाला में टैक्सी ड्राइवर की संदिग्ध मौत में चौंकाने वाला खुलासा
धर्मशाला में टैक्सी ड्राइवर की संदिग्ध मौत.

काबिलेगौर है कि मामला सोमवार को सामने आया था, जिसमें सुधेड़ निवासी टैक्सी चालक जसविंदर की एचआरटीसी वर्कशॉप धर्मशाला के पास संदिग्ध परिस्थितियों में आधा सिरकटी लाश बरामद हुई थी

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले धर्मशाला (Dharamshala) में संदिग्ध हालत में मिले टैक्सी चालक (Taxi Driver) के शव की मौत की मिस्ट्री से अब जल्द ही पर्दा उठने वाला है. दरअसल, पुलिस ने टैक्सी चालक आरोपी (Acccused) राजीव थापा की निशानदेही पर ढूंढे जा रहे घटना के दूसरे सुराग यानी उस टिप्पर को भी ढूंढ लिया है, जिससे आरोपी की कार (Car) टकराई थी और मृतक टैक्सी चालक जसविंदर का आधा सिर धड़ से अलग हो गया था.

धर्मशाला के चीलगाड़ी में पेश आई इस घटना के अहम सुराग टिप्पर को पुलिस (Police) ने मैक्लोड़गंज के दलाईलामा टैंपल रोड पर एक ओर पार्क हुए पाया और मौके पर जाकर उसे कब्जे में भी ले लिया है.

होटल कारोबारी का है टिप्पर
टिप्पर धर्मशाला के एक होटल कारोबारी का बताया जा रहा है. पुलिस ने टिप्पर मालिक से फोन कर उनके टिप्पर की जानकारी चाही तो उन्होंने पुलिस घटना से पूरी तरह से अनभिज्ञता जाहिर की और मौके पर आकर पुलिस का सहयोग किया. जब उन्होंने खुद इस बारे में अपने चालक से पूछा तो उसने पूरी कहानी पुलिस और अपने मालिक के सामने बयां कर दी, पुलिस को दिए बयान में चालक ने डर के कारण इस घटना का जिक्र तक नहीं किया. साथ ही मौका ए वारदात के दौरान टिप्पर में मौजूद होटल कारोबारी के दंपत्ति मजदूरों को भी इस घटना का कहीं जिक्र न करने की सलाह दी.



नतीजतन पुलिस आऱोपी की निशानदेही पर दो दिन तक टिप्पर की तलाश में खाक छानती रही बावजूद इसके पुलिस को कहीं सुराग नहीं मिला. बदले में उन्हें सुधेड़ में ग्रामीणों के चक्का जाम जैसी नौबत और मामले में लेटलतीफी करने संबंधी आरोप झेलने पड़े. आज अहम सूचना के आधार पर जब पुलिस सीसीटीवी फुटेज और आरोपी की निशानदेही वाले टिप्पर की तलाश में मैकलोड़गंज पहुंची तो वहां खड़े टिप्पर को देखकर मौका मुआयना किया तो शक की सूई पूरी तरह से निशाने पर आकर घूम गई.



पुलिस ने तुरंत टिप्पर का मौका मुआयना किया, सीसीटीवी फुटेज मिलान कर तुंरत टिप्पर मालिक को इतलाह किया. साथ ही फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया.

चश्मदीदों को थाने बुलाया
धर्मशाला थाना प्रभारी राजेश कुमार की अगुवाई में पुलिस टीम ने टिप्पर के ट्राले के उस हिस्से का बारीकी से निरीक्षण किया, जिसके साथ आल्टो कार टकराई थी. मौके पर तमाम साक्ष्य मिलते गए और मामले की धुंधली तस्वीर से भी पर्दार्पण हो गया. फिलहाल, पुलिस ने टिप्पर मालिक, उसके चालक और उन दो चश्मदीदों को भी थाने में बुलाया है, जो मौका-ए-वारदात के वक्त घटनास्थल पर मौजूद थे. फिलहाल पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट समेत घटना के हर साक्ष्यों को जुटाने के बाद मामले का अदालत में चालान पेश करेगी, ताकि इस घटनाक्रम में मारे गए सुधेड़ निवासी जसविंदर उर्फ लांबा की मौत की गुत्थी सुलझ सके.

धर्मशाला में मिली थी सिर कटी लाश.
धर्मशाला में मिली थी सिर कटी लाश.


सिरकटी लाश मिली थी
काबिलेगौर है कि मामला सोमवार को सामने आया था, जिसमें सुधेड़ निवासी टैक्सी चालक जसविंदर की एचआरटीसी वर्कशॉप धर्मशाला के पास संदिग्ध परिस्थितियों में आधा सिरकटी लाश बरामद हुई थी और इस मामले में एक और सुधेड़ निवासी टैक्सी चालक राजीव थापा ने उसी रात करीब दो बजे पुलिस स्टेशन धर्मशाला में आकर इस घटना की जिम्मेदारी लेते हुए सरेंडर किया था. पुलिस स्टेशन में आकर आरोपी ने गुनाह कबूल करते हुए कहा था कि उसने जसविंदर के साथ सर्किट हाउस के जंगलों में रात को बैठकर दारू पार्टी की थी और वापस घर आ रहे थे.

टिप्पर से टकराई थी कार
उसी दौरान उनकी कार एक टिप्पर से टकराई, जिसमें जसविंदर की मौके पर ही मौत हो गई. घटना के वक्त वो इतना घबरा गया कि उसने मौके से शव को लेकर गाड़ी दौड़ाना ही उचित समझा नशे में होने के चलते उसे कुछ नहीं सूझा और करीब एक डेढ किलोमीटर जाने के बाद उसने शव को बीच रास्ते में ही ठिकाने लगाना उचित समझा और फिर सीधे गांव चड़ी में अपने रिश्तेदार के पास जा पहुंचा. रिश्तेदार को घटना का जिक्र करने पर उन्होंने उसे इमानदारी से सरेंडर करने की बात कही, जिसके बाद सुधेड़ के मेला ग्राउंड के पास खून से सनी हुई आल्टो कार का पैट्रोल खत्म हो जाने के चलते उसे धक्के मारकर पार्क किया गया और फिर दूसरे वाहन के जरिये पुलिस स्टेशन में जाकर सरेंडर कर दिया.

ये भी पढ़ें: राज्यसभा चुनाव-2020: हिमाचल से निर्विरोध चुनी गई BJP की इंदू गोस्वामी

बिलासपुर के नौणी गांव में फैला डायरिया, 27 पीड़ित पहुंचे अस्पताल

Coronavirus:शिमला में कैदियों ने बनाए 5000 मास्क, 10 रुपये में बेच रहा प्रशासन
First published: March 19, 2020, 9:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading