Home /News /himachal-pradesh /

in khalistaani flag case remand is ending today of both accused district court will take further decision nodnc

हिमाचल खालिस्तानी झंडा केस: पुलिस रिमांड आज हो रही खत्म, दोपहर बाद जिला अदालत में पेश होंगे आरोपी

दोनों आरोपियों को दोपहर बाद एक बार फिर से जिला अदालत में पेश किया जाएगा.

दोनों आरोपियों को दोपहर बाद एक बार फिर से जिला अदालत में पेश किया जाएगा.

Khalistaan Flag Case: पुलिस चाहे तो दोबारा कोर्ट में पुलिस रिमांड की अर्जी लगा सकती है हालांकि रिमांड के दौरान ये खुलासा हो चुका है कि दोनों आरोपियों ने महज 10-10 हजार रुपये के लिये इस वारदात को अंजाम दिया और बाकायदा एक स्कूटी के जरिए ही पंजाब के रोपड़ से धर्मशाला पहुंच गए.

अधिक पढ़ें ...

धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला के तपोवन स्थित विधानसभा भवन के बाहर खालिस्तान के झंडे लगाने के दोनों आरोपियों हरबीर सिंह उर्फ राजू और परमजीत सिंह उर्फ पम्मा का आज पुलिस रिमांड खत्म हो रहा है और दोनों आरोपियों को दोपहर बाद एक बार फिर से जिला अदालत में पेश किया जाएगा. यूं तो दोनों हा आरोपी अपने गुनाहों को पहले ही कबूल कर चुके हैं बावजूद इसके पुलिस इन दोनों आरोपियों से उनके आकाओं के कनेक्शन जांच में पूरी तत्परता के साथ जुटी हुई है, जिसका अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है.

पुलिस चाहे तो दोबारा कोर्ट में पुलिस रिमांड की अर्जी लगा सकती है हालांकि रिमांड के दौरान ये खुलासा हो चुका है कि दोनों आरोपियों ने महज 10-10 हजार रुपये के लिये इस वारदात को अंजाम दिया और बाकायदा एक स्कूटी के जरिए ही पंजाब के रोपड़ से धर्मशाला पहुंच गए. यहां एक होम स्टे में रहकर नजदीक के मार्केट से हरा पेंट खरीदकर विधानसभा की दीवारों पर खालिस्तानी स्लोगन लिखे. धर्मशाला पुलिस द्वारा दर्ज मामले की भी जहां तक जानकारी है उसके तहत प्राथमिक रिपोर्ट में सिर्फ हिमाचल प्रदेश पब्लिक प्रोपर्टी डिस्फेसमेंट एक्ट 1985 के तहत ही मामला दर्ज हुआ है.

गिरफ्तारी के बाद बाकायदा आरोपियों को उन स्पॉट पर भी लेकर जाया गया है, जहां जहां उन्होंने वक्त बिताया और साजो सामान खरीदा. ऐसे में धर्मशाला पुलिस पुलिस अब तक इतने सबूत इक्ट्ठा कर चुकी है कि कभी भी कोर्ट में चार्जशीट पेश की जा सकती है और दोबारा पुलिस रिमांड मांगने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रही. बावजूद इसके अगर दूसरी लिहाज से देखें और इन आरोपियों के आकाओं तक पहुंचने की बात को मद्देनजर रखें तो शायद ही आरोपी अब तक अपना मुंह खोल पाए हैं. ऐसे में पुलिस उसके लिये भी जदोजहद कर सकती है और दोबारा कोर्ट में रिमांड मांग सकती है, अगर इस मामले में दूसरे पहलू की कोई गुंजाइश नहीं हुई तो कोर्ट दोनों ही आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज सकता है ताकि इन दोनों आरोपियों के खिलाफ पंजाब में भी दर्ज मामलों की जांच पड़ताल और पूछताछ के लिये पंजाब पुलिस इन्हें धर्मशाला से प्रोडक्शन वारंट पर ले जा सकती है.

Tags: Himachal news, Himachal Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर