हिमाचल: बड़ा-बंगाल में गड़रिये पर गिरे पत्थर, घायल हालत में किया Airlift

गौरतलब है कि बड़ा बंगाल इलाका कांगड़ा के बैजनाथ में आता है. यहां के लिए कोई सड़क मार्ग नहीं है. केवल पैदल या फिर हवाई मार्ग से ही यहां पहुंचा जा सकता है. इस गांव में 500 के आसपास लोग रहते हैं, जो सर्दियों में यहां से पलायन कर कांगड़ा के बीड़ बिलिंग आ जाते हैं.

Bichitar Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 8, 2019, 4:23 PM IST
हिमाचल: बड़ा-बंगाल में गड़रिये पर गिरे पत्थर, घायल हालत में किया Airlift
बड़ा बंगाल से एयरलिफ्ट किए गए चतरो राम कांगड़ा लाए गए हैं.
Bichitar Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 8, 2019, 4:23 PM IST
हिमाचल प्रदेश के दुर्गम क्षेत्र बड़ा बंगाल से एक घायल गड़रिये को एयरलिफ्ट किया गया है. एयरलिफ्ट कर घायल को कागंड़ा लाया गया है और उसे अस्पताल लेकर जाया गया है.

जानकारी के अनुसार, एक गडरिये पर ढांक से पत्थर गिर गया था और इस दौरान वह घायल हो गए थे. गड़रिये चतरो राम पर ढांक से पत्थर गिरने की घटना पांच अगस्त को पेश आई थी. इसके बाद सेटेलाइट फोन के जरिये कांगड़ा प्रशासन से मदद मांगी गई. कांगड़ा प्रशासन मौसम खराब होने के चलते बंड़ा बंगाल हेलिकॉप्टर नहीं भेज पाया था. इसके बाद गुरुवार सुबह हेलीकॉप्टर भेजा गया और गडरिये चतरो राम को रेस्क्यू किया गया. कांगड़ा के गग्गल से चतरो राम को सीधे टांडा मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है.

साथियों ने भी की थी मदद
काबिले गौर है कि 5 अगस्त को चतरू राम जब अपनी भेड़ बकरी के साथ बड़ा भंगाल से करीब 25 किलोमीटर दूर अपनी चरागाह में मौजूद था तो उस वक़्त वो भूस्खलन की चपेट में आ गया, जिसके चलते उसकी दोनों टांगें बुरी तरह से फैक्चर हो गई. घटना के बाद उसके साथ मौजूद उसके साथी ने इस बात की सूचना अपने दूसरे साथियों को दी और इस तरह बड़ा बंगाल से स्थानीय लोगों ने 25 किलोमीटर दूर चतरू राम को रेस्क्यू कर बड़ा भंगाल तक पहुंचाया और उसके बाद सेटेलाइट सेट के जरिए प्रशासन से संपर्क किया.

बेहद दुर्गम इलाका है
जानकारी मिली है कि बुधवार को भी चतरो राम को वहां से लाने का असफल प्रयास किया गया था. गौरतलब है कि बड़ा बंगाल इलाका कांगड़ा के बैजनाथ में आता है. यहां के लिए कोई सड़क मार्ग नहीं है. केवल पैदल या फिर हवाई मार्ग से ही यहां पहुंचा जा सकता है. इस गांव में 500 के आसपास लोग रहते हैं, जो सर्दियों में यहां से पलायन कर कांगड़ा के बीड़ बिलिंग आ जाते हैं.

ये भी पढ़ें: सुखबीर को गलतफहमी, 370 और धारा 118 में तुलना सही नहीं: CM
Loading...

हिमाचल कांग्रेस बोली-Article 370 और धारा 118 को जोड़ना गलत

PHOTOS: पंजाब रोडवेज बस की ब्रेक फेल, 4 कारों-बाइक से भिड़ीं

किन्नौर के स्कीबा में 2 साल की बच्ची से रेप,मैकेनिक गिरफ्तार

मंडी के इस दंपति ने लिया देहदान का संकल्प, कहा-शरीर केवल राख

पूर्व CM वीरभद्र की सेहत में सुधार, आज मिल सकती है छुट्टी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 4:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...