लाइव टीवी

कांगड़ा में नाबालिग छात्र ने स्कूल में खाया जहर, अस्पताल में भर्ती

Bichitar Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 16, 2020, 3:37 PM IST
कांगड़ा में नाबालिग छात्र ने स्कूल में खाया जहर, अस्पताल में भर्ती
कांगड़ा के स्कूल में छात्र ने खाया जहर. (सांकेतिक तस्वीर)

Suicide Attempt in Kangra School: लंबागांव पुलिस के एएसआई गुलशन रांगड़ा ने कहा कि छात्र अभी बयान देने की हालत में नहीं है. छात्र के बयान देने के बाद ही पता चलेगा कि उसने जहर क्यों खाया.

  • Share this:
धर्मशाला (कांगड़ा). बंक मारने पर प्रंबंधन ने छात्र को डांट (Scold) लगाई और परिजनों को स्कूल बलाने पर नाबालिग छात्र (Minor Student) ने जहर खा लिया. छात्र की हालत गंभीर है और उसे टांडा मेडिकल क़ॉलेज (Tanda Medical College) में भर्ती करवाया है. मामला हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा (Kangra) जिले का है.

स्कूल में खाया जहर
जानकारी के अनुसार, कांग़ड़ा के जयसिंहपुर के एक सरकारी स्कूल में यह घटना पेश आई है. 11वीं के छात्र ने दोस्त के जन्मदिन मनाने के लिए स्कूल से बंक मार लिया. इस पर स्कूल प्रशासन की ओर से छात्र के अभिभावकों को स्कूल में बुलाया गया और उनके सामने उसे ख़ूब डांट-फ़टकार लगवाई. छात्र ने इस से आहत होकर स्कूल में ही अपनी ज़िंदगी खत्म करने का फ़ैसला ले लिया और जहरीला पदार्थ खाकर जान देने की कोशिश की.

स्कूल में मचा हड़कंप

इससे पहले कि बड़ी अनहोनी हो जाती स्कूल के अन्य छात्रों द्वारा अपने सहपाठी की हरकत की अध्यापकों को इतलाह कर दी, गनीमत से छात्र की हालत खतरे से बाहर है. स्कूल में छात्र के जहर निगलने की घटना का पता चलते ही हड़कंप मच गया.छात्र को तुरंत सिविल अस्पताल जयसिंहपुर ले जाया गया. यहां से प्राथमिक उपचार देने के बाद डॉक्टरों ने गंभीर अवस्था में छात्र को टांडा अस्पताल रेफर कर दिया. हालांकि अब छात्र की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. छात्र अभी तक पुलिस को बयान देने की हालत में नहीं है, इसलिए उसने जहर क्यों निगला इसके असल कारणों का पता नहीं चल पाया है.

यह है चर्चा
हालांकि, स्कूल में चर्चा रही कि छात्र के एक सहपाठी का शुक्रवार को जन्मदिन था. बताया जा रहा है कि छात्र स्कूल आने के बजाय जन्मदिन मनाने सहपाठी के घर चला गया था. साथ में वह स्कूल की एक छात्रा को भी ले गया था. इस बात का पता जब स्कूल के अध्यापकों को चला तो उन्होंने छात्र के परिजनों को स्कूल बुलाकर समझाने की कोशिश की थी.यह बोली पुलिस
शिक्षकों ने छात्र के परिजनों को पूरी बात बताई थी. बताया जा रहा है कि स्कूल में परिजनों के सामने छात्र ने खुद को अपमानित महसूस किया और जहर खाने जैसा बड़ा कदम उठा लिया. लंबागांव पुलिस के एएसआई गुलशन रांगड़ा ने कहा कि छात्र अभी बयान देने की हालत में नहीं है. छात्र के बयान देने के बाद ही पता चलेगा कि उसने जहर क्यों खाया?

यह बोले प्रिंसिपस
स्कूल प्रिंसिपल ने कहा कि छात्र शुक्रवार को स्कूल न आकर अपने सहपाठी के घर जन्मदिन मनाने चला गया था. स्कूल की एक छात्रा को भी अपने साथ ले गया था. इस बात का पता चलते ही स्टाफ की ओर से छात्र और उसके घरवालों को स्कूल बुलाकर समझाया गया था, ताकि अनुशासन बना रहे. लेकिन, छात्र ने अगले दिन स्कूल में आकर जहरीला पदार्थ क्यों खाया, इसके बारे में उन्हें पता नहीं है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में निजी संस्थान की बस-ट्रक में भिड़ंत, 10 छात्राओं समेत 12 घायल

घर से स्कूल के लिए निकले नाबालिग छात्र ने पुल से लगाई छंलाग, अस्पताल में भर्ती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 3:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर