Home /News /himachal-pradesh /

किन्नौर हिमस्खलन हादसे में फंसा हिमाचल का एक और जवान

किन्नौर हिमस्खलन हादसे में फंसा हिमाचल का एक और जवान

किन्नौर हिमस्खलन हादसा (फाइल फोटो)

किन्नौर हिमस्खलन हादसा (फाइल फोटो)

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भारत तिब्बत-चीन बॉर्डर से सटे इलाके में बुधवार को ग्लेशियर टूटने से चपेट 6 जवान उसकी चपेट में आ गए थे. इस हादसे में हिमाचल के एक और जवान के फंसे होने की खबर है.

    हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भारत तिब्बत-चीन बॉर्डर से सटे इलाके में बुधवार को ग्लेशियर टूटने से चपेट 6 जवान उसकी चपेट में आ गए थे. इस हादसे में हिमाचल के एक और जवान के फंसे होने की खबर है.

    इससे पहले इसी हादसे में हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले का जवान भी शहीद हो चुका है. बिलासपुर के शाहतलाई के गांव घुमारपुर के राकेश कुमार हादसे के वक्त गश्त पर थे. शहीद की मौत की सूचना मिलने ही इलाके में मातम छा गया. राकेश के परिजनों को बुधवार देर शाम को ही हादसे की सूचना मिल गई थी. राकेश अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे.

    राकेश अपने पीछे माता-पिता, पत्नी और बच्चों को छोड़ गए हैं. राकेश कुमार अपने पीछे पिता चिरंजी लाल, माता कौशल्य देवी, पत्नी ममता देवी, मनीष और विवेक को छोड़ गए. किन्नौर जिले में भारत-तिब्बत सीमा से सटे दुर्गम क्षेत्र नमज्ञा में गश्त पर निकले सेना और आईटीबी के कुल 11 जवान हिमस्खलन में दब गए थे. इनमें से राकेश कुमार नामक जवान की मौत हो गई.

    250 जवान कर रहे तलाश
    जानकारी के अनुसार, हादसे में फंसे जवानों को बचाने के लिए आर्मी, आईटीबीपी और बीआरओ के 250 जवानों ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है. सुबह हुई बर्फबारी की वजह से तापमान -15°C पहुंच गया है. डीसी किन्नौर गोपाल चंद ने बताया है कि फिलहाल, मौसम खराब होने की वजह से तलाशी अभियान में भी परेशानी हो रही है. घटना बुधवार दोपहर की है और किन्नौर के काजा से लगभग 150 किमी दूर हादसा हुआ था.

    रिपोर्ट - बिचित्र शर्मा 

    ये भी पढ़ें -

    पुलवामा के बाद अब चीन बॉर्डर पर हिमाचली जवान शहीद, इकलौती संतान थे राकेश

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Himachal pradesh, Himachal pradesh news, Soldier

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर