किन्नौर : बारिश से 10 करोड़ से अधिक का नुकसान, सड़कें टूटी व फसलें हुई बर्बाद

किन्नौर में बरसात से 10 करोड़ से अधिक की सम्पत्ति का नुकसान हुआ है. बरसात के पानी में लोकनिर्माण विभाग को ही 6 करोड़ से अधिक का नुकसान हुआ है. सैकड़ों हेक्टेयर भूमि पर लगी सेब और मटर की फसलें नष्ट हो गई हैं.

News18 Himachal Pradesh
Updated: August 17, 2019, 12:06 AM IST
किन्नौर : बारिश से 10 करोड़ से अधिक का नुकसान, सड़कें टूटी व फसलें हुई बर्बाद
किन्नौर - सबसे अधिक नुकसान पूह खण्ड के कानम, मूरंग, नेसंग आद्वि क्षेत्रों में हुआ है
News18 Himachal Pradesh
Updated: August 17, 2019, 12:06 AM IST
किन्नौर में बरसात से 10 करोड़ से अधिक की सम्पत्ति का नुकसान हुआ है. बरसात के पानी में लोकनिर्माण विभाग को ही 6 करोड़ से अधिक का नुकसान हुआ है. आईपीएच विभाग को भी सिंचाई व पेयजल के 4 करोड़ से अधिक का नुकसान पूरे जिले में हुआ है. मूरंग तहसील में चार हेक्टेयर भूमि पर सेब से लदा हुआ बाग पूरी तरह से बर्बाद हो गया. वहीं जिले के सांगला तहसील के राक्छम व बटसेरी में भी बाढ़ के चलते 7 हेक्टेयर भूमि में सेब व मटर की फसल नष्ट हो गई. बरसात के दौरान नष्ट हुई सड़क, पुल, सिंचाई कूल व पेयजल की लाइनों की मरम्मत कार्य युद्धस्तर पर चल रही है. पूरे जिले में 12 सिंचाई कूल को बाढ़ की चपेट में आने से नुकसान हुआ है.

उपायुक्त किन्नौर गोपाल चंद ने कहा कि 8 अगस्त को बादल फटने से सबसे अधिक नुकसान पूह खण्ड के कानम, मूरंग, नेसंग आद्वि क्षेत्रों में हुआ है.


उपायुक्त किन्नौर गोपाल चंद ने मीडिया से कहा कि किन्नौर जिले में बरसात के दौरान अपेक्षा से कम बारिश हुई है. लेकिन ग्लेशियर के पिघलने से सांगला के खोरक्ला नाले में आई बाढ़ से सेब और मटर की फसलों को नुकसान हुआ है. साथ ही सड़क मार्ग को भी भारी नुकसान हुआ है.

उन्होंने कहा कि इसी तरह से आठ अगस्त को बादल फटने से सबसे अधिक नुकसान पूह खण्ड के कानम, मूरंग, नेसंग आद्वि क्षेत्रों में हुआ है. उन्होंने कहा कि एडीएम को सभी मरम्मत कार्यो को जल्द पूरा करने का आदेश दिया गया है. आईपीएच विभाग को पेयजल को जल्द बहाल करने के लिए 15 लाख की धनराशि जारी की गई है.

(किन्नौर से अरुण नेगी की रिपोर्ट)

 ये भी पढ़ें - पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी मनाली को अपना दूसरा घर मानते थे

 ये भी पढ़ें - पुलिस मुन्नाभाइयों को काबू कर अपनी पीठ थपथपाए या ...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 11:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...