अचानक किया सांड ने हमला, सींगों में उठा जमीन पर पटक-पटक कर शख्स को जान से मारा
Dharamsala News in Hindi

अचानक किया सांड ने हमला, सींगों में उठा जमीन पर पटक-पटक कर शख्स को जान से मारा
कांगड़ा में सांड के हमले में शख्स की मौत.

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले की घटना, सांड के हमले से पीड़ित की मौके पर ही मौत हो गई.

  • Share this:
देहरा (कांगड़ा). हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा (Kangra) जिले के देहरा में इन दिनों कोरोना से ज्यादा आवारा पशुओं (Stray animals) का आंतक चल रहा है. आवारा पशु आए दिन किसी न किसी को अपना शिकार बना रहे हैं. ताजा मामले में एक व्यक्ति को अपनी जान गंवानी पड़ी है. त्रिपल रेलवे स्टेशन (Railway Station) के पास ही मंगलवार सुबह घर के पास ही आवारा सांड ने जानलेवा कर दिया. मृतक अपनी 80 वर्षीय माता के साथ अकेला ही रहता था, जिससे उसकी माता का रोरोकर बुरा हाल है. मृतक की पत्नी से 21 वर्ष पहले ही तलाक हो गया था, उसका एक बेटा भी है जोकि अपनी मां के साथ ही रहता है.

खेतों के पास टहल रहा था शख्स
जानकारी के अनुसार, देहरा की पंचायत त्रिपल में जब एक व्यक्ति घर के पास ही खेतों में टहल रहा था तो रास्ते में सांड ने उस पर हमला कर दिया. हमले में 48 वर्षीय व्यक्ति प्रमोद सिंह पुत्र रोशन लाल, गांव ठठल, त्रिपल के रूप में हुई है. घटना के बाद से ही ग्रामीणों में खासा रोष है. ग्रामीणों ने कहा है कि वह बीते 6 महीने से स्थानीय प्रशासन और सरकार से आवारा पशुओं को लेकर शिकायतें कर रहे हैं, लेकिन ना तो स्थानीय प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई की गई और ना ही सरकार जागी.

पहले भी कई बार हुए हमले



ग्रामीणों का कहना है कि इसी आवारा सांड पहले भी कई लोगों पर हमला करता है. ग्रामीणों का कहना है कि आवारा सांड की वजह से लोगों का अपने घरों से निकलना मुश्किल हो चुका है और हर समय लोग खौफ में जी रहे हैं. लोगों ने सरकार व प्रशासन को एक बार फिर गुहार लगाते हुए कहा है कि इस आवारा सांड को पकड़कर किसी को गौशाला में रखा जाए, ताकि वह आगे अपना किसी को शिकार ना बना सके और किसी व्यक्ति की जान ना जा सके. लोगों ने यह भी कहा कि प्रदेश सरकार व डीसी कांगड़ा से आग्रह है कि इन आवारा पशुओं से इलाके की जनता को निजात दिलाई जाए.



यह बोला प्रत्यक्षदर्शी
घटना के प्रत्यक्ष दर्शी अशोक ने बताया कि उसने सुबह साढ़े 9 बजे के करीब चिल्लाने की आवाज सुनी तो पाया कि एक आवारा सांड ने उनके ही गांव के व्यक्ति पर हमला कर दिया है, जिसके बाद जब आगे जाकर देखा तो उसकी मौत हो चुकी थी. मृतक के बड़े भाई प्यारे लाल ने कहा कि यहां दुकान से भाई सुबह 09:15 पर लकड़ी लेने निकला था, जहां उसे सांड ने टक्कर मार दी और मौके पर ही मौत हो गई. ग्राम पंचायत त्रिपल की प्रधान सरोज कुमारी ने बताया कि यहां 48 वर्षीय व्यक्ति प्रमोद सिंह को बैल ने मारा है.

मौके पर ही मौत
स्थानीय डॉ केवल कृष्ण नंदा ने बताया कि मुझे लोगों ने बताया कि यहां आवारा सांड ने एक व्यक्ति पर हमला कर दिया है. उन्होंने कहा कि जब मैं साढ़े 9 बजे यहां पहुंचा तो देखा कि व्यक्ति की मौत हो चुकी है. डॉ नंदा ने हिमाचल प्रदेश सरकार व डीसी कांगड़ा से आग्रह किया है कि आवारा पशुओं से शीघ्र ही इस इलाके को निजात दिलाई जाए. उन्होंने कहा कि यहां रेलवे ट्रैक के साथ ही यह घटना हुई है और साथ ही सरकारी स्कूल भी है. उन्होंने कहा कि गनीमत यह रही कि अभी स्कूल बंद है.

यह बोली पुलिस
रानीताल पुलिस के चौकी प्रभारी किशोर चंद ने बताया कि 48 वर्षीय व्यक्ति प्रमोद सिंह पुत्र रोशन लाल गांव ठठल ग्राम पंचायत त्रिपल की मौके पर ही मौत हो गई. उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कहा जा सकता है कि मौत सांड के हमले से हुई है या कोई और कारण है.

ये भी पढ़ें: मंडी : 4 साल पहले बड़े भाई ने पिता को मारा था, अब छोटे ने नानी का मर्डर किया

हिमाचल में पहले दिन HRTC के 2222 रूट बहाल, नहीं चली प्राइवेट बसें

COVID-19: सुंदरनगर में कोरोना वायरस की दस्तक, 33 वर्षीय युवक निकला पॉजिटिव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading