VIDEO: लूनसु में चश्मे का चमत्कारी पानी पीने रोज जुटते हैं हज़ारों लोग, जानें क्या है खास

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के लूनसु रेलवे स्टेशन पर स्थित चश्मे का चमत्कारी नमकीन पानी पीने रोज हज़ारों लोग जुटते हैं. अभी मेला चल रहा है.

News18 Himachal Pradesh
Updated: June 12, 2019, 6:48 PM IST
News18 Himachal Pradesh
Updated: June 12, 2019, 6:48 PM IST
इन दिनों लूनसु रेलवे स्टेशन पर मेला शुरू हो गया है, लेकिन आने वाले लोगों की तादात पिछले कुछ सालों से लगातार घटती जा रही है. लूनसु में 6 जून से शुरू हुआ यह मेला 22 जून तक चलेगा. यहां नमकीन पानी के चश्मे का पानी पीने के लिए रोज सुबह हज़ारों लोग एक ट्रेन से आते हैं तो दूसरी ट्रेन से लौट जाते हैं. गैस, कब्ज, गुर्दे की पथरी जैसी पेट की बीमारियों से ग्रस्त हज़ारों लोग यहां का नमकीन पानी पीते हैं. सैकड़ों वर्षों से ये सिलसिला ऐसे ही जारी है. बुजुर्ग बताते हैं कि ये नमकीन पानी पेट संबंधित बीमारियों को जड़ से खत्म कर देता है.

ट्रेन ही है यहां पहुंचने का एकमात्र साधन 



यहां पहुंचने का एकमात्र माध्यम ट्रेन ही है. औषधीय नमकीन पानी का चश्मा लूनसु रेलवे स्टेशन पर ही है. इस रेलवे स्टेशन पर सभी ट्रेनें नहींं रुकती हैं इस वजह से ग्रामीणों को बहुत परेशानी उठानी पड़ती है. यात्री अमृतसर व पठानकोट से ट्रेन से नमकीन पानी पीने आते हैं. लूनसु रेलवे स्टेशन गुलेर रेलवे स्टेशन से आगे कांगड़ा की तरफ आता है. प्रदेश सरकार की अनदेखी के चलते यह मेला अपनी रौनक खोते जा रहा  है. हरिपुर वासा से लूनसु पुल बनने से 7 दशक पुरानी समस्या खत्म हो जाएगी और ये क्षेत्र भी देश दुनिया से सड़क मार्ग से जुड़ जाएगा. बरसात के दिनों में ट्रेनें बंद होने के चलते ये इलाका दुनिया से पूरी तरह से कट जाता है. यहां बनेर खड्ड पर पुल बनना है जो कई वर्षों से कागजों पर ही बन रहा है.

(रिपोर्ट- बरजेश्वर साकी)

ये भी पढ़ें-  दशमेश सेवा सोसायटी अब कराएगी मुफ्त गरीबों का मुफ्त इलाज

  • कुल्लू में घंटों तक चलता रहा तूफान का तांडव, फसलों को नुकसान

  • Loading...

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...