Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल मंत्रिमंडल के विस्तार पर कुछ भी कहना अभी जल्दबाजी: सीएम

हिमाचल मंत्रिमंडल के विस्तार पर कुछ भी कहना अभी जल्दबाजी: सीएम

सीएम जयराम ठाकुर, हिमाचल प्रदेश.

सीएम जयराम ठाकुर, हिमाचल प्रदेश.

मुख्यमंत्री ने कहा 68 विधानसभा क्षेत्रों में बीजेपी को जो प्रचंड बहुमत मिला है उसका वह सम्मान करते हैं और अभी मंत्रिमंडल की विस्तार की कोई जल्दबाजी नहीं है, फिलहाल बीजेपी को जीत का जशन मनाने दीजिए.

    हिमाचल प्रदेश में भाजपा को लोकसभा चुनाव 2019 में चारों सीटों पर जीत दर्ज की है. भाजपा ने दो विधायकों को चुनाव में उतारा था और उन्हें प्रंचड जीत मिली है. ऐसे में जहां विधानसभा के लिए उपचुनाव होने हैं, वहीं, मंत्रिमंडल में दो पद भी खाली चल रहे हैं. कांगड़ा से जीते किशन कपूर खाद्य आपूर्ति मंत्री हैं और मंडी सदर से विधायक अनिल शर्मा ने मंत्रीपद से इस्तीफा दिया था.

    अब मंत्रीपद को लेकर जद्दोजहद शुरू हो गई है. सीएम ने चुनाव के दौरान कहा था कि विधायकों की परफोर्मेंश के बाद मंत्रिमंडल में फेरबदल होगा. चुनाव में अब भाजपा को 68 विधानसभा क्षेत्रों में लीड मिली है, ऐसे में सीएम की दुविधा बढ़ गई है.

    ये बोले-सीएम
    सोमवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कांगड़ा के धर्मशाला पहुंचे. धर्मशाला में उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल के विस्तार पर अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. समय के अनुसार, जो भी चीजें होंगी, उन्हें किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कांगड़ा कि जनता ने बीजेपी को जनादेश जो दिया है, उसका वह स्वागत करते हैं और भविष्य में, जो भी निर्णय लिए जाएंगे, वह सोच समझ कर लिए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा 68 विधानसभा क्षेत्रों में बीजेपी को जो प्रचंड बहुमत मिला है उसका वह सम्मान करते हैं और अभी मंत्रिमंडल की विस्तार की कोई जल्दबाजी नहीं है, फिलहाल बीजेपी को जीत का जशन मनाने दीजिए.

    ये नाम चर्चा में आगे
    फिलहाल, जिन नेताओं के नाम चर्चा में हैं, उनमें पहला नाम विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल का है, जो नाहन से विधायक हैं. उन्होंने शिमला संसदीय सीट के लिए भाजपा के जीते सांसद सुरेश कश्यप को अपने विधानसभा क्षेत्र से 24563 मतों की लीड दिलवाई है. दूसरा नाम कांगड़ा के नुरपूर से विधायक राकेश पठानिया का चल रहा है. राकेश पठानिया कांगड़ा जिला से ताल्लुक रखते हैं.

    पठानियां की दावेदारी
    धर्मशाला से किशन कपूर के सांसद चुने जाने के बाद कांगड़ा कोटे से अगर किसी को मंत्री बनाया जा सकता है तो उसमें बड़ा नाम राकेश पठानिया हैं. राकेश पठानिया भी अपने विधानसभा चुनाव क्षेत्र में 35 हजार 170 की लीड दिलाने में सफल रहे हैं. राकेश पठानिया धाकड़ और अपनी बेबाकी के लिए जाने जाते हैं. वह कई मुद्दों पर अपनी सरकार को भी विधानसभा में घेरते हुए देखे गए हैं.

    कर्नल इंद्र सिंह भी दौड़ में शामिल
    तीसरे नंबर पर सरकाघाट से पांच बार के विधायक कर्नल इंद्र सिंह का नाम चर्चा में है. कर्नल इंद्र ने भी अपने विधानसभा क्षेत्र से 31 हजार 21 मतों से लीड दिलाई है. चुनाव के वक्त भी यहां पर यह मुद्दा गरम रहा कि अगर सरकाघाट से प्रचंड लीड मिलती है तो अनिल शर्मा की जगह को कर्नल इंद्र सिंह से भरा जाएगा. यह भी चर्चा है कि अगर डॉ. राजीव बिंदल मंत्रीपद पाने में सफल होते हैं तो विधानसभा अध्यक्ष के लिए कर्नल इंद्र सिंह का नाम आगे आ सकता है.

    ये भी पढ़ें: पंडोह और लारजी डैम से छोड़ा जाएगा पानी, अलर्ट जारी

    हाईवे पर चलती कार पर पहाड़ी से गिरी चट्टान, ड्राइवर की मौत

    हिमाचल कैबिनेट की मैराथन मीटिंग में सवर्ण आरक्षण को मूंजरी

    यौन शोषण केस: गर्भवती नहीं है छात्रा, प्रिंसिपल का फोन जब्त

    खेतों में छलांग लगानेवाले नमन की निगाहें नेशनल चैंपियनशिप पर

    विवाहिता की मौत पर हंगामा, मायकेवाले बोले-हत्या कर शव लटकाया

    Tags: Lok Sabha Election 2019

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर