हिमाचल प्रदेश: कांगड़ा के ट्रैकिंग स्थलों पर मिल रहा पाकिस्तान का सिग्नल, सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट 

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में पाकिस्तानी फोन कंपनी के सिग्नल मिलने से हड़कंप मच गया है.

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में पाकिस्तानी फोन कंपनी के सिग्नल मिलने से हड़कंप मच गया है.

जिला कांगड़ा में करेरी झील ट्रैक पर कुछ दिन से पाकिस्तान की मोबाइल फोन कंपनी का सिग्नल मिलने से सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं. स्थानीय प्रशासन इस मामले की जांच में जुट गया है.

  • Last Updated: April 19, 2021, 1:16 AM IST
  • Share this:
बिचित्र शर्मा, धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के शाहपुर उपमंडल के तहत पड़ते करेरी झील ट्रैक पर कुछ दिन से पाकिस्तान की मोबाइल फोन कंपनी का सिग्नल (Pakistan's signal) आ रहा है. जिले में पाकिस्तानी मोबाइल फोन कंपनी का सिग्नल होने की बात सामने आने के बाद सुरक्षा एजेंसियां (Security Agencies) भी अलर्ट हो गईं हैं. पिछले सप्ताह धर्मशाला क्षेत्र से ट्रैकरों का एक दल करेरी झील की तरफ गया था. इस ट्रैक में नोली खड्ड और रियूटी क्षेत्र से लेकर करेरी झील तक किसी भी मोबाइल फोन कंपनी का सिग्नल नहीं होता है. आम तौर पर झील के पास केवल बहुत ही छोटे से क्षेत्र में एक मोबाइल फोन कंपनी का सिग्नल होता है.

जब यह ग्रुप धर्मशाला लौटा तो उन्होंने पुलिस प्रशासन को सूचित किया कि करेरी ट्रैक पर पाकिस्तान की मोबाइल फोन कंपनी का सिग्नल कई स्थानों पर उपलब्ध था. उन्होंने इसके सुबूत भी पुलिस प्रशासन को दिये हैं. सूचना के बाद पुलिस ने इस संबंध में दूरसंचार विभाग शिमला को पत्र लिखा और जांच के बाद रिपोर्ट सौंपने को कहा है.

पुलिस अधीक्षक कांगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि पुलिस ने दूरसंचार विभाग शिमला को पत्र लिखा है। सुरक्षा एजेंसियों को भी सचेत रहने का निर्देश दिया गया है. इससे पहले भी धर्मशाला क्षेत्र में पाकिस्‍तान की मोबाइल फोन कंपनी का सिग्‍नल पाया गया है. ट्रैकिंग व प्रस‍िद्ध पर्यटन स्‍थल त्रियुंड सहित खनियारा के खड़ोता में भी पाकिस्‍तान की मोबाइल कंपनी का सिग्‍नल पाया जा चुका है. हालांकि विशेषज्ञों का मानना है यह तकनीकी कारणों से होता है, कई बार फ्रिक्‍वेंसी बढ़ाने से सिग्‍नल आगे निकल जाता हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज