लाइव टीवी

HRTC से इस बार दीपावली पर पीस मील वर्कर नहीं लेगे मिठाई का डिब्बा, जानिए वजह

News18 Rajasthan
Updated: October 21, 2019, 8:47 AM IST
HRTC से इस बार दीपावली पर पीस मील वर्कर नहीं लेगे मिठाई का डिब्बा, जानिए वजह
देहरा में HRTC के मील कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ कर रहे धरना प्रदर्शन

हिमाचल प्रदेश सरकार को अब एचआरटीसी के पीस मील वर्कर घेरने की तैयारी में जुट गए हैं. अपने अल्टीमेटम में उन्होंने प्रदेश सरकार से 23 अक्टूबर तक मांगे मानने को कहा है.

  • Share this:
देहरा. हिमाचल प्रदेश सरकार को अब एचआरटीसी (Himachal Road Transport Corporation) के पीस मील वर्कर (piecemeal workers )घेरने की तैयारी में जुट गए हैं. अपने अल्टीमेटम में उन्होंने प्रदेश सरकार से 23 अक्टूबर तक मांगे मानने को कहा है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि अगर मांगे न मानी गई तो 24 से 26 अक्टूबर तक प्रदेशभर के पीस मील कर्मचारी सामूहिक अवकाश (Group holiday) पर चले जायेंगे. 27 अक्टूबर को दीपावली (Deepawali) का त्यौहार है, ऐसे में एचआरटीसी (HRTC) अतिरिक्त बसें (Buses) लगाकर यात्रियों को सुविधाएं उपलब्ध करवाता है. इस दौरान बसों की मेंटेनेंस का जिम्मा इन पीस मील वर्करों के कंधों पर आता है. अगर सभी कर्मी सामूहिक अवकाश पर चले गए तो स्थिति भयंकर हो सकती है. पीस मील कर्मियों की यह चेतावनी सरकार में गले की फांस बन गई है.

1000 पीस वर्कर ने दीपावली पर सामूहिक अवकाश पर जाने का निर्णय लिया

इसी कड़ी में प्रदेशभर अनुबंध नीति नीति ना बनने के विरोध में रविवार को हिमाचल पथ परिवहन निगम देहरा के पीस मील कर्मचारियों ने गेट मीटिंग के दौरान सरकार के प्रति रोष प्रकट किया. एचआरटीसी  में पिछले 10-12 साल से अपनी सेवाएं दे रहे लगभग 1000 पीस मेल मील कर्मियों ने दीपावली पर सामूहिक अवकाश पर जाने का निर्णय लिया है.

 इस बार उन्हें मिठाई का डिब्बा न देकर खरीदें स्पेयरपार्ट-पीस मील वर्कर 

हिमाचल सरकार द्वारा प्रति दो-तीन साल से अनुबंध पर नहीं लिया जा रहा है, जबकि पूर्व सरकार ने पीस मील कर्मचारियों को अनुबंध में 5 और 6 साल की नीति के अंतर्गत अनुबंध पर लिया गया है. साथ ही जो कर्मी अनुबंध पर आ गए हैं. वह अब रेगुलर भी हो गए हैं. दिवाली पर राज्य भर के कर्मचारी मिठाई का डिब्बा नहीं लेंगे. हिमाचल परिवहन तकनीकी कर्मचारी संगठन (Himachal Transport Technical Staff Organization) में एचआरटीसी को पीस मील कर्मचारियों को मिठाई देने के खर्चे होने वाली धनराशि को घाटे से बचने के लिए प्रयोग करने की नसीहत दी है. यदि 23 अक्टूबर तक प्रदेश के पीस मिल कर्मचारियों को एक मुशत पर नहीं लाया गया, तो वह 24, 25, 26 को 3 दिन पीस मिल कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर जाएंगे.

28 डिपो के 1000 पीस मील कर्मचारी मांगों को लेकर कर रहे धरना प्रदर्शन

मंत्री गोविंद ठाकुर ने मार्च में हुई बीओडी की बैठक में पीस मील कर्मचारियों के लिए नीति बनाई थी, लेकिन अब तक सर्विस कमेटी की बैठक नहीं हो पाई, ऐसे में अब प्रदेश के 28 डिपो के 1000 पीस मील कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सरकार के प्रति धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. इसमें पीस मील में संघ के प्रधान पप्पू , लखविंदर, पंकज, अनुज, नरेंद्र, नीरज, अमित, रोहित, अक्षय आदि मौजूद रहे.
Loading...

(देहरा से ब्रजेश्वर साकी की रिपोर्ट)

यह भी पढ़ें- VIDEO: युवाओं के खून में बढ़ रहा है नशीला जहर, शिमला बनी चिट्टे की राजधानी

यह भी पढ़ें- मंडी : इलेक्ट्रॉनिक आइटम के गोदाम में लगी भीषण आग, लाखों का सामान खाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 8:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...