COVID-19: PM ने जाना कांगड़ा का हाल, संक्रमण के बीच स्वास्थ्य सुविधाओं में होने लगा इजाफा

सीएम के साथ मीटिंग में डीसी कांगड़ा और अन्य.

सीएम के साथ मीटिंग में डीसी कांगड़ा और अन्य.

पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भारत सरकार के स्वास्थ्य सचिव ने बीते मंगलवार को राज्यों के सीएम सहित प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंस से चर्चा की. कांगड़ा जिला से भी डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति और सीएमओ गुरदर्शन गुप्ता भी इसमें जुड़े थे.

  • Share this:

धर्मशाला. देश के सबसे अधिक संक्रमित जिलों में शुमार हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला (Kangra) की ओर केंद्र सरकार का भी अब ध्यान जाने लगा है. यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भी कांगड़ा का प्रदेश के मुखिया से कुशलक्षेम पूछा है और यहां के लोगों को सोशल वैक्सीन अपनाने का नया मूलमंत्र भी प्रदान किया है. इतना ही नहीं, इन हालातों को मद्देनजर रखते हुये केंद्र सरकार कांगड़ा में वेंटिलेटर (Ventilator) की संख्या भी 60 से बढ़ाकर 94 करने जा रही है. इसके अलावा प्रदेश सरकार भी बिगड़े हालात के बीच कांगड़ा पर ही फोक्स कर रही है.

सीएम भी पहुंचे थे कांगड़ा

यही वजह है कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बाकायदा बीते बुधवार को धर्मशाला पहुंचकर कांगड़ा के हालातों का का जायजा लेने के साथ-साथ यहां पर हिमाचल के कोरोना संक्रमित मरीजों को लिए एक संजीवनी किट भी लांच करके गये हैं, जो कि यहां के जिलाधीश राकेश प्रजापति की सूझ-बूझ का सबसे बड़ा उदाहरण माना जा रहा है. इतना ही नहीं, कांगड़ा में संजीवनी की इस किट को तैयार करने के लिये मुख्यमंत्री ने बाकायदा सार्वजनिक स्थल पर जनप्रतिनिधियों के सामने राकेश प्रजापति की पीठ भी थपथपाकर उन्हें शाबाशी भी दी है.

Youtube Video

कहां ब़ढ़ी सुविधाएं

कांगड़ा में स्वास्थ्य सुविधाओं में इजाफा करते हुए अब पालमपुर के बाद नूरपुर में भी सारी वार्ड बना दिया गया है, जहां पर करीब 50 मरीजों को सुविधा मिलेगा. इस तरह से कांगड़ा जिला में धर्मशाला, टांडा मेडिकल कालेज, आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज पपरोला, पालमपुर सिविल अस्पताल, राधा स्वामी सत्संग ब्यास मेकशिफ्ट अस्पताल के बाद अब नूरपुर सिविल अस्पताल में भी कोरोना मरीजों को स्वास्थ्य सुविधा शुरू की गई है. काबिलेगौर है कि पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भारत सरकार के स्वास्थ्य सचिव ने बीते मंगलवार को राज्यों के सीएम सहित प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंस से चर्चा की. कांगड़ा जिला से भी डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति और सीएमओ गुरदर्शन गुप्ता भी इसमें जुड़े थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज