कांग्रेस दिग्गज वीरभद्र सिंह का चुनाव ना लड़ने और फिर पलटने वाला बयान हास्यास्पद: CM जयराम

धर्मशाला के एक दिन के दौरे पर हैं सीएम जयराम ठाकुर.

धर्मशाला के एक दिन के दौरे पर हैं सीएम जयराम ठाकुर.

Himachal Politics: गुरुवार रात को वीरभद्र सिंह ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट डालकर इस संबंध में स्थिति स्पष्ट की और कहा कि आज मीडिया ने मेरे चुनाव न लड़ने के बारे हल्के फुल्के व्यंग को गम्भीरता से ले लिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:19 PM IST
  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस (Congress) के दिग्गज नेता वीरभद्र सिंह (Virbhadara Singh) के 2022 के विधानसभा चुनाव ना लड़ने और अपने बयान से पलटने पर अब सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने प्रतिक्रिया दी है. सीएम जयराम ठाकुर ने उनके इस बयान को हास्यास्पद बताया है. धर्मशाला के एक दिन के दौरे पर आए जयराम ठाकुर ने कहा कि वीरभद्र सिंह प्रदेश के वरिष्ठ नेता हैं. उनका चुनाव न लड़ने और फिर लड़ने का बयान अपने आप में हास्यास्पद है.

दिल्ली किसान आंदोलन पर भी मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि 26 जनवरी की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. दिल्ली का किसान आंदोलन, किसानों का आंदोलन नहीं है. क्योंकि असली किसान अपने खेतों में काम कर रहा है.

Youtube Video


क्या कहा था वीरभद्र सिंह ने


पूर्व मुख्यमंत्री और सोलन के अर्की से कांग्रेस (Congress) विधायक वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) ने गुरुवार को साल 2022 विधानसभा चुनाव न लड़ने का ऐलान किया, लेकिन, कुछ देर बाद ही उन्होंने अपना बयान बदलते हुए चुनाव लड़ने की बात कही. बाद में इस बात पर प्रदेशभर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं में हड़कंप मच गया. इस पर वीरभद्र सिंह ने अपने बयान से पलटते हुए कहा कि अगर जनता ने चाहा तो वह अपना फैसला बदलकर विधानसभा चुनाव लड़ेंगे.

सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली



गुरुवार रात को वीरभद्र सिंह ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट डालकर इस संबंध में स्थिति स्पष्ट की और कहा कि आज मीडिया ने मेरे चुनाव न लड़ने के बारे हल्के फुल्के व्यंग को गम्भीरता से ले लिया. उन्होंने कहा- मेरा चुनाव लड़ना या न लड़ना भविष्य के गर्व में छिपा है. जो सक्रिय राजनीति में है उन्हें एक ना एक दिन रिटायरमेंट लेना है. यह एक सत्य हैं , लेकिन कब लेना है यह प्रदेश की जनता और उस समय की राजनीतिक परिस्थितियां तय करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज