लाइव टीवी

हिमाचल के पोंग जलाशय हुआ प्रवासी पक्षियों से गुलजार, अब तक 50 हजार से ज्यादा पहुंचे

भाषा
Updated: November 29, 2019, 12:39 PM IST
हिमाचल के पोंग जलाशय हुआ प्रवासी पक्षियों से गुलजार, अब तक 50 हजार से ज्यादा पहुंचे
कांगड़ा जिले में स्थित पोंग जिले में 50 हजार से अधिक प्रवासी पक्षी पहुंच चुके हैं.

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में महाराणा प्रताप सागर झील (Maharana Pratap Sagar Lake) में 50 हजार से अधिक प्रवासी पक्षी (Migratory Bird) पहुंच चुके हैं. महाराणा प्रताप सागर झील को पोंग जलाशय (Pong Reservoir) के नाम से भी जाना जाता है.

  • भाषा
  • Last Updated: November 29, 2019, 12:39 PM IST
  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में महाराणा प्रताप सागर झील (Maharana Pratap Sagar Lake) में 50 हजार से अधिक प्रवासी पक्षी (Migratory Bird) पहुंच चुके हैं. महाराणा प्रताप सागर झील को पोंग जलाशय (Pong Reservoir) के नाम से भी जाना जाता है. धर्मशाला में सहायक वन संरक्षक प्रदीप ठाकुर ने बताया कि इस झील में हर पखवाड़े पक्षियों की सामान्य गणना की जाती है, जबकि वार्षिक गणना 29 जनवरी और 30 जनवरी को की जाएगी. यह माना जाता है कि जनवरी के अंत में झील में सबसे अधिक प्रवासी पक्षी आते हैं.

इस झील का निर्माण 1975 में हुआ था

इस झील को 1975 में बनाया गया था, जब शिवालिक पर्वत श्रृंखलाओं के नमभूमि क्षेत्र (Wetland) में व्यास नदी पर दुनिया के सबसे ऊंचे बांध पोंग डैम का निर्माण किया गया था.

अक्टूबर से प्रवासी पक्षियों का यहां आना हो जाता है शुरू

प्रदीप ठाकुर ने बताया कि अक्टूबर से अभी तक करीब 55,000 प्रवासी पक्षी यहां पहुंच चुके हैं. यह झील एक प्रसिद्ध वन्यजीव अभयारण्य है.

यह भी पढ़ें: हमीरपुर ब्लाइंड मर्डर: पैरों और माथे पर ठोकी थी कीलें, दो दोषियों को उम्रकैद

पहले नाबालिग के साथ गई युवती, अब लगाया रेप का आरोप, FIR
Loading...

कोटखाई गैंगरेप : गुड़िया के परिजन मुख्यमंत्री से मिले, न्यायिक जांच की मांग की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 12:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...