Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल पुलिस के रिटायर कर्मियों को चाहिए 'वन रैंक वन पेंशन'

हिमाचल पुलिस के रिटायर कर्मियों को चाहिए 'वन रैंक वन पेंशन'

हिमाचल प्रदेश पुलिस से रिटायर कर्मियों को पूर्व सैनिकों की तर्ज पर वन रैंक वन पेंशन चाहते हैं। वहीं पुलिस पेंशनर्स ने पुलिस कैंटीन और रिवाइडज ग्रेड-पे का लाभ पेंशनर्स को देने का आग्रह भी किया है।

हिमाचल प्रदेश पुलिस से रिटायर कर्मियों को पूर्व सैनिकों की तर्ज पर वन रैंक वन पेंशन चाहते हैं। वहीं पुलिस पेंशनर्स ने पुलिस कैंटीन और रिवाइडज ग्रेड-पे का लाभ पेंशनर्स को देने का आग्रह भी किया है।

हिमाचल प्रदेश पुलिस से रिटायर कर्मियों को पूर्व सैनिकों की तर्ज पर वन रैंक वन पेंशन चाहते हैं। वहीं पुलिस पेंशनर्स ने पुलिस कैंटीन और रिवाइडज ग्रेड-पे का लाभ पेंशनर्स को देने का आग्रह भी किया है।

हिमाचल प्रदेश पुलिस से रिटायर कर्मियों को पूर्व सैनिकों की तर्ज पर वन रैंक वन पेंशन चाहते हैं। वहीं पुलिस पेंशनर्स ने पुलिस कैंटीन और रिवाइडज ग्रेड-पे का लाभ पेंशनर्स को देने का आग्रह भी किया है।

बुधवार को जोधामल सराय धर्मशाला में हिमाचल प्रदेश पुलिस पेंशनर वेल्फेयर एसोसिएशन की बैठक में इस वर्ग से जुड़ी मांगों को प्रमुखता से उठाया। साथ ही इस मुद्दे को सरकार के समक्ष उठाने का निर्णय लिया गया।

एसोसिएशन का कहना है कि पूर्व सैनिकों को वन रैंक वन पेंशन देने की बात कही जा रही है। ऐसे में सेवानिवृत्त पुलिसकर्मियों को भी इसका लाभ मिलना चाहिए।

पूर्व सैनिकों और सैनिकों को तो सीएसडी कैंटीन के माध्यम से जरूरी सामान उपलब्ध करवाया जाता है, तो पुलिस कर्मियों को भी ऐसी सुविधा मिलनी चाहिए।

एसोसिएशन ने प्रदेश सरकार से सीएसडी की तर्ज पर पुलिस कैंटीन शुरू करने की मांग की है, जिससे सेवानिवृत्त पुलिस कर्मी भी जरूरत का सामान सस्ते दामों पर प्राप्त कर सकें।

सेवानिवृत्त पुलिसकर्मियों के हित में कार्य कर रही एसोसिएशन का अभी विस्तार किया जा रहा है। वर्तमान में एसोसिएशन कांगड़ा, चंबा, ऊना व हमीरपुर जिलों में काम कर रही है। एसोसिएशन पदाधिकारियों की मानें तो अन्य जिलों में भी विस्तार किए जाएंगे और नए सदस्य जोड़ें जाएंगे। फिलहाल एसोसिएशन में 120 सदस्‍य हैं।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

Tags: One Rank One Pension

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर