Home /News /himachal-pradesh /

shopkeeper did not take a coin of 20 rupees the customer reached the court of dc hrrm

हिमाचल: दुकानदार ने नहीं लिया 20 रुपये का सिक्का, तो डीसी के दरबार में पहुंच गया ग्राहक

दुकानदार की शिकायत लेकर ग्राइक उपायुक्त के पास पहुंच गया.

दुकानदार की शिकायत लेकर ग्राइक उपायुक्त के पास पहुंच गया.

Himachal News: शैलेन्द्र ने बताया कि मामला बीस रुपये के लेनदेन का नहीं बल्कि ग्राहक और दुकानदार के बीच में कैसा व्यवहार होना चाहिये वो उससे आहत है, और ऊपर से वो आरबीआई द्वारा जारी राशि ही तो दुकानदार को दे रहा था. वो कोई फेक तो नहीं थी.

अधिक पढ़ें ...

धर्मशाला. हिमाचल के कांगड़ा जिला के धर्मशाला में उस वक्त अजब तमाशा हो गया जब एक ग्राहक अपनी फरियाद लेकर सीधे जिलाधीश कार्यालय में पहुंच गया. ग्राहक ये कहते हुये दुकानदार के ख़िलाफ कार्रवाई करने की मांग करने लगा कि उसने सामान खरीदने पर जो 20 रुपये का सिक्का उसे दिया दुकानदार ने उसे लेने से इंकार कर दिया. दुकानदार ने उसे सिक्के के बदले में नोट देने की ही पेशकश कर दी.

घरोह पंचायत के मैटी निवासी शैलेन्द्र ने धर्मशाला में एक दुकान से चॉकलेट खरीदी और उसकी एवज में उसने दुकानदार को 20 रुपये का सिक्का थमाया तो दुकानदार ने इसे लेने से इनकार कर दिया. यहीं नहीं इस दौरान दुकानदार ओर ग्राहक के बीच इस मुद्दे पर जोरदार बहस भी हो गई. यहां तक कि बहस का स्तर ये था कि आस पास के लोग भी वहां इकट्ठा हो गये. जब ग्राहक शैलेन्द्र को लगा कि यहां उसकी बात बनने वाली नहीं और खुद सरकार द्वारा जारी सिक्के को दुकानदार लेने से इंकार कर रहा है तो उसे इस सिक्के को लेकर अब सीधे डीसी दरबार में ही जाकर फरियाद लगानी चाहिये और वो सीधे वहां पहुंच भी गया.

शैलेंद्र ने इस सम्बंध में बकायदा शिकायत भी दर्ज करवा दी है. इस सम्बंध में शैलेन्द्र के मुताबिक उन्हें आश्वासन दिया गया है कि इस मामले को लेकर दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी. ग्राहक शैलेन्द्र ने बताया कि मामला बीस रुपये के लेनदेन का नहीं बल्कि ग्राहक और दुकानदार के बीच में कैसा व्यवहार होना चाहिये वो उससे आहत है, और ऊपर से वो आरबीआई द्वारा जारी राशि ही तो दुकानदार को दे रहा था. वो कोई फेक तो नहीं थी. बावजूद इसके दुकानदार ने उसे न केवल लेने से इंकार किया बल्कि उसके साथ उचित व्यवहार भी नहीं किया.

इस घटना से वो खुद को प्रताड़ित महसूस कर रहा है और इसकी हर लिहाज से शिकायत दर्ज होनी बेहद जरूरी है ताकि इस तरह से दुकानदार न तो इंडियन करंसी के ऊपर उंगली उठाये और न ही ग्राहकों के साथ बुरा बर्ताव करें. यहां तक शैलेंन्द ने कहा कि अगर जिला प्रशासन ने इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की तो वो इस मामले को लेकर कोर्ट का दरवाजा खटखटाने से भी गुरेज नहीं करेंगे.

वहीं दुकानदार सौरभ की मानें तो उसे एक ग्राहक 20 रुपये का सिक्का दे रहा था जिसे मैने इसलिये लेने से इंकार किया कि बहुत से ग्राहक सिक्के नहीं लेते और गिर जाने का हवाला देते हैं. मैंने उसे नोट देने को कहा मगर वो मेरे आग्रह को किसी और ही लहजे में ले गया और यहां तमाशा हो गया.

Tags: Himachal news, Himachal Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर