हिमाचल: नशे की ओवरडोज़ से गई युवक की जान, बाजू में फंसा हुआ था इंजेक्शन

नशे की ओवरडोज से मौत

मृतक युवक के बाजू में एक इंजेक्शन भी फंसा हुआ था. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

  • Share this:
कांगड़ा. हिमाचल प्रदेश में नशा का सेवन और तस्करी के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. ताजा मामले में नशे (Drugs) के ओवरडोज से युवक की मौत हो गई है. मामला सूबे के कांगड़ा (Kangra) जिले का है. पठानकोट के साथ लगते इंदौरा में डमटाल पुलिस स्टेशन के तहत नशे की ओवरडोज़ से एक नोजवान की मौत का मामला सामने आया है, जिससे इलाके में फिर से दहशत का माहौल है.

हालांकि इन दिनों इन कुरीतियों पर चोट करने वाली तमाम संस्थाओं का ध्यान इससे हटकर कोरोना महामारी पर ही जाकर अटका हुआ है. फिर भी गौर करें तो बीते डेढ़ साल में कोरोना से कम और चिट्टे जैसी सिंथेटिक ड्रग्स के नशे से कई युवा अपनी जान गंवा चुके हैं . प्राप्त जानकारी के अनुसार विपिन कुमार उम्र 32 साल सपुत्र टोल्लु राम वासी इंदपुर तहसील इन्दौरा अपनी माता को गेहूं की कटाई के लिए खेतो में छोड़ कर काम पर जाने के लिए निकला था. लेकिन घर नहीं लौटा .

युवक की जब तलाश की गई तो कन्द्रोरी मोड़ पर उसकी बाइक ग्रीनलैण्ड स्कूल के पास खड़ी पाई गई. तलाश करने पर नजदीक ही झाड़ियों में उसका शव भी वरामद किया गया. इस दौरान चोंकाने वाला वाकया ये था कि मृतक विपिन के बाजू में एक इंजेक्शन भी फंसा हुआ था. मौका ए वारदात पर मृतक की पहचान गांव के उपप्रधान अजय सिंह गुलेरिया ने की व पुलिस थाना डमटाल को सूचित किया. जिस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए एसआई रमेश बैंस मोके पर पहुंचे व शव को कब्जे में लेकर धारा 174 के तहत मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई अमल में लायी जा रही है.