कांगड़ा के इस गांव में दर्जन भर लोग पहुंचे अस्पताल, ये रही वजह

कांगड़ा के देहरा ग्राम पंचायत के अन्तर्गत पड़ने वाले बाड़ी खास में एक मामला सामने आया है. यहां खेतों में खर-पतवार नाशक दवाई स्प्रे की गई थी, जिसके चलते दर्जनों लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए.

News18 Himachal Pradesh
Updated: June 9, 2019, 3:07 PM IST
कांगड़ा के इस गांव में दर्जन भर लोग पहुंचे अस्पताल, ये रही वजह
खरपतवार नाशक के कारण दर्जन लोग बीमार हो गए
News18 Himachal Pradesh
Updated: June 9, 2019, 3:07 PM IST
हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा के देहरा ग्राम पंचायत के अन्तर्गत पड़ने वाले बाड़ी खास में एक मामला सामने आया है. यहां खेतों में खर-पतवार नाशक दवाई स्प्रे की गई थी, जिसके चलते दर्जनों लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए. इन बीमार लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है. लोगों ने प्रधान से शिकायत की है कि करतार चन्द पुत्र गंगा राम, वॉर्ड न० 5 ने बीते सोमवार को खेतों में घास मारने वाली जहरीली दवाई (खरपतवार नाशक) स्प्रे की थी, जिससे दर्जन भर लोग बीमार होकर अस्पताल पहुंच गए. वहीं पंचायत की प्रधान सरिता ने कहा कि 12 जून को दोनों पक्षों को बुलाया गया है. देहरा क्षेत्र के साथ लगती ग्राम पंचायत बाड़ी खास में रहने बाले प्यार चन्द, मदन लाल, कांता देवी, मीना कुमारी, सुरेश कुमार, सुरक्षा देवी, अमर चंद आदि ने गांव पंचायत प्रधान बाड़ी खास को एक शिकायत पत्र दिया. इस पत्र में गांव बाडी खास के ही करतार चंद पुत्र गंगा राम, वॉर्ड न० 5 ने बीते सोमवार को खेतों में घास मारने वाली जहरीली दवाई (खरपतवार नाशक) स्प्रे की है, जिससे खेतों के नजदीक रहने वाले ग्रामीण बीमार पड़ गए. इन्हें इलाज के लिए देहरा के सिविल अस्पताल पहुंचाया गया.

इस खरपतवार नाशक पर प्रतिबंध लगाने की मांग

बीमार लोगों में से कुछ लोग अभी ठीक हो चुके जबकि कुछ का उपचार चल रहा है. लोगों ने बच्चे अपने रिश्तेदारों के यहां भेज दिए थे. स्प्रे करने से ग्रामीण ही नहीं बल्कि फलदार पौधे भी नष्ट हो गए. गांव के किसान बरसात के दिनों में अपने खेतों में घास मारने की जहरीली दवाई का प्रयोग करते हैं. ग्रामीणों ने प्रधान से से शिकायत करते हुए कहा कि इस दवा के स्प्रे से लोगों के जीवन को खतरा हो सकता है, इसलिए इस दवाई की बिक्री पर पूर्ण तौर पर रोक लगाना अति आवश्यक है.

इसकी चपेट में बच्चे भी आ गए

वहीं कॉमरेड प्यार चंद ने बताया कि जहरीली दवाई से उनके घर के छोटे बच्चे भी चपेट में आ गए. उन्होंने कहा कि वह भी अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह प्रशासन से ऐसी जहरीली दवाई प्रतिबंधित कर देनी चाहिए.

ग्राम पंचायत बाड़ी खास की प्रधान सरिता राणा ने कहा कि उनके पास शिकायत आई है. उन्होंने कहा कि वह जल्द ही मौका देखकर इसपर उचित कार्यवाही करेंगे.

(देहरा से ब्रजेश्वर साकी की रिपोर्ट)
Loading...

यह भी पढ़ें: रोहतांग टनल निर्माण को लेकर सीएम जयराम ठाकुर ने BRO से ​किया ये आग्रह

जरा संभल कर! इस साल बहुत कठिनायों से भरी है हेमकुंड साहिब यात्रा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 9, 2019, 3:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...