धर्मशाला में निवार्सित तिब्बतियों के चुनाव की घोषणा, ये है शेड्यूल

धर्मशाला में तिब्बति पदाधिकारी.
धर्मशाला में तिब्बति पदाधिकारी.

Tibet Election in Dharamshala: चुनाव आयुक्त वांगडू त्सेरिंग ने कहा कि तिब्बती समुदाय के लोगों से अनुरोध किया जाता है कि वे केंद्रीय तिब्बती प्रशासन द्वारा निर्धारित फीस का भुगतान कर मतदान में पूरा सहयोग करें.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला (Dharamshala) में निवार्सित तिब्बतियों के चुनाव की घोषणा हो गई है. मुख्य चुनाव आयुक्त वांगडू त्सेरिंग ने अतिरिक्त चुनाव आयुक्तों के साथ इस बात की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि प्रथम चरण के तहत तिब्बती सिक्योंग (अध्यक्ष) पद के लिए प्रत्याशियों का चयन करेंगे. यानी जो वोटिंग 3 जनवरी को होगी, उसमें अध्यक्ष (President) पद के लिए प्रत्याशी का चयन किया जाएगा. उसी में जो दो प्रत्याशी चुनकर आएंगे उनके लिए अंतिम चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को होगी।

क्या है चुनाव का नियम
निर्वासित तिब्बतियों के चुनावी नियमों के अनुसार, सिक्योंग (अध्यक्ष) और तिब्बती संसद के 2021 में आयोजित होने वाले आम चुनावों में पहले की तरह नए नियमों के तहत सीधे तौर पर अध्यक्ष का चुनाव होगा. कोरोना काल के संकट से उपजी मौजूदा चुनौतियों के बावजूद निर्वाचन आयोग का कार्यालय निर्धारित समयावधि के अनुसार 2021 के आम चुनाव कराने के लिए प्रतिबद्ध है. निर्वासन में तिब्बतियों के चार्टर में निर्दिष्ट मतदाता पात्रता के अनुसार, वोट देने के अधिकार से वंचित कानूनों के अधीन सभी तिब्बती (जिन्होंने अठारह वर्ष की आयु प्राप्त कर ली है) मतदान के अधिकार के हकदार होंगे और तिब्बती ग्रीन बुक स्वीकार किया गया दस्तावेज है, जिससे मतदाता की आयु साबित हो सकेगी. आम चुनावों को कुशलता पूर्वक संपन्न करने की अपनी पहल के तहत, चुनाव आयोग ने स्थानीय चुनाव आयोग और जनता के लाभ के लिए कार्यशालाओं, ऑनलाइन प्रशिक्षण, इन्फोग्राफिक्स और ऑडियो निर्देशों की एक श्रृंखला आयोजित करने की घोषणा की.

क्या बोले अधिकारी
चुनाव आयुक्त वांगडू त्सेरिंग ने कहा कि तिब्बती समुदाय के लोगों से अनुरोध किया जाता है कि वे केंद्रीय तिब्बती प्रशासन द्वारा निर्धारित फीस का भुगतान करें और मतदान में पूरा सहयोग करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज