200 सासंदों ने की धर्मगुरु दलाई लामा को ‘भारत रत्न’ देने की पैरवी, गृहमंत्री को भेजा खत

गौरतलब है कि बीते कुछ दिन से दलाई लामा की तबियत नासाज चल रही थी. उन्हें दिल्ली में एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. जहां उनकी सेहत में सुधार हुआ है.

News18 Himachal Pradesh
Updated: April 16, 2019, 12:04 PM IST
200 सासंदों ने की धर्मगुरु दलाई लामा को ‘भारत रत्न’ देने की पैरवी, गृहमंत्री को भेजा खत
दलाई लामा (फाइल फोटो.)
News18 Himachal Pradesh
Updated: April 16, 2019, 12:04 PM IST
सर्वदलीय संसदीय फोरम ने केंद्र सरकार से तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा को सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न देने की पैरवी की है. फोरम में शामिल विभिन्न दलों के 200 सांसदों का साइन किया अनुरोध पत्र गृहमंत्री राजनाथ सिंह को भेजा गया है.

फोरम के अध्यक्ष शान्ता कुमार बताया कि सर्वदलीय संसदीय दल के सदस्यों ने एक मत से यह निर्णय लिया था. निर्वासित तिब्बती संसद के उपाध्यक्ष आचार्य येशी फुन्चोक ने यह पत्र गृहमंत्री कार्यालय को सौंपा.

बता दें कि दलाई लामा पिछले 6 दशक से तिब्बत की आज़ादी और तिब्बत में मानवाधिकारों की बहाली के लिए शांतिपूर्वक और अहिंसात्मक रूप से संघर्ष कर रहे हैं. उन्हें नोबेल पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है. दलाई लामा ने निर्वासन के बाद भारत में शरण ली थी और साल 1958 से वह धर्मशाला के मैक्लोडगंज में रह रहे हैं.

गौरतलब है कि बीते कुछ दिन से दलाई लामा की तबियत नासाज चल रही थी. उन्हें दिल्ली में एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. जहां उनकी सेहत में सुधार हुआ है.

ये भी पढ़ें : BREAKING: हिमाचल की चूड़धार यात्रा पर निकले युवक-युवती लापता

सुर्खियां: भाजपा अध्यक्ष के बिगड़े बोल पर घमासान, मनमानी पर निजी स्कूलों का घेराव

200 सासंदों ने धर्मगुरु दलाई लामा को ‘भारत रत्न’ देने की पैरवी की, गृहमंत्री को भेजा ख़त
Loading...

कांग्रेस समर्थक का ऐलान- ‌BJP अध्यक्ष सत्ती की ‘काली जुबान’ काटने वाले को 10 लाख रुपये दूंगा

BJP अध्यक्ष सत्ती के खिलाफ मंडी और शिमला में शिकायत, राहुल गांधी पर की थी ‘अभद्र टिप्पणी’

हिमाचल में मौसम: कल से दो दिन तक चलेगा तूफान, होगी ओलावृष्टि

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 16, 2019, 9:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...