लाइव टीवी

हिमाचल के पहले ICC अंपायर बने वीरेंद्र शर्मा, श्रीलंका में T-20 मैच से करेंगे आगाज
Dharamsala News in Hindi

Bichitar Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 29, 2019, 8:58 PM IST
हिमाचल के पहले ICC अंपायर बने वीरेंद्र शर्मा, श्रीलंका में T-20 मैच से करेंगे आगाज
वीरेंद्र शर्मा हिमाचल प्रदेश के पहले अंपायर हैं, जिन्हें आईसीसी अंपायर्स पैनल के लिए चुना गया.

हमीरपुर जिले (Hamirpur District) के गांव पुरली कक्कड़ में जन्मे 49 वर्षीय वीरेंद्र शर्मा इस वर्ष बीसीसीआई की ओर से आईसीसी अंपायर्स पैनल (ICC Umpires Pannel) के लिए चयनित हुए हैं. वे हिमाचल प्रदेश पहले अंपायर हैं, जिन्हें आईसीसी अंपायर्स पैनल के लिए चुना गया है.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले के गांव पुरली कक्कड़ में जन्मे 49 वर्षीय वीरेंद्र शर्मा (Virendra Sharma) इस वर्ष बीसीसीआई (BCCI) की ओर से आईसीसी (ICC) अंपायर्स पैनल के लिए चयनित हुए हैं. वे हिमाचल प्रदेश से पहले अंपायर हैं, जिन्हें आईसीसी अंपायर्स पैनल के लिए चुना गया है. वीरेंद्र शर्मा इस मुकाम पर पहुंचने वाले प्रदेश के पहले व देश के शमशुद्दीन, अनिल चौधरी व नितिन मेनन के पश्चात चौथे अंपायर बन गए हैं. वीरेंद्र शर्मा ने अपना क्रिकेट करियर हमीरपुर जिला से बतौर अंडर-17 खिलाड़ी के रूप में शुरू किया था. तत्पश्चात अंडर-19 खेलते हए वर्ष 1991 से 50 के करीब रणजी मैचों में हिमाचल का प्रतिनिधित्व किया और वहीं वर्ष 2001 से दो वर्षों तक हिमाचल की रणजी टीम के कप्तान भी रहे.

करीब 75 प्रथम श्रेणी मैचों में कर चुके हैं अंपायरिंग

वर्ष 2007 में एचपीसीए के प्रदेश स्तरीय अंपायर पैनल में पर्दापण किया तब से लेकर आईसीसी के पैनल में चयनित होने तक इन 12 वर्षों में वीरेंद्र शर्मा अब तक 75 के करीब फर्स्ट क्लास मैचों में अंपायरिंग कर चुके हैं. इसके साथ ही वर्ष 2015 से आईपीएल में भी लगभग 30 मैचों में बतौर ऑन फील्ड व थर्ड अंपायर के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

अगले महीने श्रीलंका में करेंगे शुरुआत

वर्ष 2019 में बीसीसीआई के घरेलू अंपायरिंग पैनल में वीरेंद्र शर्मा को अंपायरिंग के लिए प्रथम रैंकिंग का दर्जा प्राप्त है. आईसीसी अंपायर बनने के पश्चात वरिंद्र शर्मा को अगले महीने भारत में होने वाली श्रीलंका के T-20 मैच सीरीज व साथ ही ऑस्ट्रेलिया के साथ होने वाली घरेलू वनडे सीरीज में भी अंपायरिंग करने की जानकारी आईसीसी के तरफ से मिल चुकी है. भारत सरकार के लोक उपक्रम "इंजीनियरिंग इंडिया लिमिटेड" में कार्यरत वीरेंद्र शर्मा अपने पिता स्वर्गीय रुलिया राम शर्मा को अपना प्रथम गुरु व मार्गदर्शक मानते हैं उनके इस चयन पर उनके परिवार के सदस्य माता शकुंतला, पत्नी सारिका शर्मा व बेटी वेरोनिका भी उत्साहित हैं.

वीरेंद्र शर्मा ने अनुराग ठाकुर को बताया अपना मार्गदर्शक

वीरेंद्र शर्मा ने कहा कि आईसीसी अंपायर्स पैनल में चयनित होने पर मैं बहुत खुश हूं. वर्ष 1987 से एक क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में कैरियर की शुरुआत की थी और वर्ष 2007 में तत्कालीन एचपीसीए के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर जी की प्रेरणा से अंपायरिंग शुरू की. अनुराग ठाकुर मेरे क्रिकेटिंग करियर में हमेशा मार्गदर्शक के रूप में रहेंगे. वही मैं बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल, जिला हमीरपुर के अध्यक्ष प्रेम ठाकुर, एचपीसीए प्रबंधन व बीसीसीआई प्रबंधन का अपने इस चयन पर विशेष आभार व्यक्त करता हूं.यहां भी पढ़ें: अमित शाह के भाषण के दौरान एंबुलेंस के गुजरने पर तल्ख हुए DC, उठाया ये कदम

हमीरपुर के जवान अंकुश ने सियाचीन में -40 डिग्री में बर्फीले तूफान से जीती जंग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 29, 2019, 5:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर