कांगड़ा में पशुशाला की छत चीरते हुए गिरी आसमानी बिजली, लगी आग, बाल-बाल बचे मवेशी
Dharamsala News in Hindi

कांगड़ा में पशुशाला की छत चीरते हुए गिरी आसमानी बिजली, लगी आग, बाल-बाल बचे मवेशी
कांगड़ा में गोशाला पर गिरी बिजली

बता दें कि हिमाचल में पांच और छह मई को मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इस दौरान भारी बारिश और तूफान की संभावना जताई गई है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
ज्वालमुखी (कांगड़ा). हिमाचल प्रदेश में मौसम (Weather) का कहर देखने को मिल रहा है. बीते एक सप्ताह से सूबे में मौसम खराब चल रहा है. कांगड़ा जिले में ज्वालामुखी के साथ लगते रैंखा के एक गांव मतिया में स्थित पशुशाला (Cowshed) में आसमानी बिजली गिरने से आग लग गई. मामला गुरुवार शाम को पेश आया. पशुशाला में आग लगने के बाद स्थानीय लोगों की सहायता से सबसे पहले यहां अंदर बंधे 9 मवेशियों को बाहर निकाला गया और बाद में आग पर काबू पाया गया.

गोशाला हुई खाक

जानकारी के अनुसार, रैंखा के गांव मतिया में पुरषोत्तम चंद की पशुशाला में आसमानी बिजली गिरने से एकाएक आग लग गई. जिस समय यहां आग लगी उस दौरान गौशाला में 7 बकरियां और 2 भैंसे बंधी हुई थी. इस आगजनी की घटना से यहां रखी इमारती लकड़ी जल गई सहित भैंसों के लिए रखी तुड़ी भी इस आग की चपेट में आ गई. इससे पशुशाला के मालिक को हज़ारों रुपए का नुकसान पहुंचा है.



छत को चिरते हुए गिरी बिजली



स्थानीय लोगों की मानें तो आसमानी बिजली गौशाला की छत को चीरते हुए अंदर पड़ी और अचानक यहां आग लग गई. मामले की सूचना मिलने के बाद स्थानीय पँचायत प्रधान व पटवारी ने गौशाला का निरीक्षण किया और नुकसान का जायजा लिया. बता दें कि हिमाचल में पांच और छह मई को मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इस दौरान भारी बारिश और तूफान की संभावना जताई गई है.

(ब्रजेश्वर साकी की रिपोर्ट)
First published: June 5, 2020, 2:50 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading