हिमाचल प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र 7 से 11 दिसंबर के बीच होगा : विधानसभाध्यक्ष

तपोवन में 7 दिसंबर से 11 दिसंबर के बीच शीतकालीन सत्र होगा.
तपोवन में 7 दिसंबर से 11 दिसंबर के बीच शीतकालीन सत्र होगा.

हिमाचल प्रदेश विधानसभा के दो परिसर हैं, एक शिमला में और दूसरा धर्मशाला के नजदीक तपोवन में है. विधानसभा का शीतकालीन सत्र कांगड़ा जिले के तपोवन में होता है.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की विधानसभा (Assembly) का शीतकालीन ( Winter session) सत्र धर्मशाला (Dharamshala) के तपोवन में 7 दिसंबर से 11 दिसंबर के बीच होगा. यह जानकारी विधानसभा अध्यक्ष (speaker) विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) ने सोमवार को दी.

सत्र की तैयारियों की समीक्षा बैठक की विधानसभा अध्यक्ष ने

परमार ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सत्र की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की और विधानसभा परिसर के विभिन्न हिस्सों का निरीक्षण किया. उन्होंने कहा कि अधिकारियों को सत्र के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया गया है. साथ ही शहर के यातायात को सुचारू रखने के लिए पुलिस योजना बनाएगी ताकि धर्मशाला और आसपास के लोगों को कोई असुविधा न हो.



कोविड-19 से बचाव के नियमों का पालन होगा
अध्यक्ष ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोविड-19 से बचाव के नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए कार्ययोजना बनाने को कहा गया है. उन्होंने कहा, ‘तपोवन स्थित विधानसभा परिसर को सत्र से पहले और सत्र के दौरान वायरस मुक्त करने की उचित व्यवस्था की जाएगी.’ परमार ने बताया कि विधानसभा परिसर में कोविड-19 जांच केंद्र भी स्थापित किया जाएगा.

तपोवन में होना है शीतकालीन सत्र

उल्लेखनीय है कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के दो परिसर हैं, एक शिमला में और दूसरा धर्मशाला के नजदीक तपोवन में है. विधानसभा का शीतकालीन सत्र कांगड़ा जिले के तपोवन में होता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज