पूर्व कांग्रेस विधायक के भतीजे समेत तीन युवकों पर जानलेवा हमला, गाड़ियां भी तोड़ीं

पूर्व विधायक का कहना है कि बीते 1 महीने पहले उनके चचेरे भाई की भी इसी तरह हत्या कर दी गई थी और बीते 4 महीनों में भाजपा की सरकार के समय बद्दी में 50 से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं.

Jagat Singh Bains | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 14, 2018, 2:09 PM IST
पूर्व कांग्रेस विधायक के भतीजे समेत तीन युवकों पर जानलेवा हमला, गाड़ियां भी तोड़ीं
हमले में घायल युवक.
Jagat Singh Bains | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 14, 2018, 2:09 PM IST
हिमाचल प्रदेश के दून विधानसभा क्षेत्र में पूर्व कांग्रेस विधायक चौधरी राम कुमार के भतीजे वह तीन अन्य युवकों पर जानलेवा हमला होने का मामला सामने आया है. घटना बुधवार रात की है.

पूर्व विधायक राम कुमार चौधरी का भतीजा अपने 3 दोस्तों के साथ बद्दी के दावत चौक में गाड़ी में बैठे थे. इस दौरान उनकी गाड़ी पर एक दर्जन से ज्यादा हमलावरों ने तेजधार हथियारों लोहे की रॉड व बंदूक से हमला कर दिया.

हमलावरों ने पहले पूर्व विधायक के भतीजे की गाड़ी के शीशे तोड़े और उसके बाद उसके दोस्तों की गाड़ी को भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया. युवक किसी तरह अपनी जान बचाकर वहां से भागे. हमले का आरोप बद्दी के बाग़बनिया के रहने वाले पम्मा गैंगस्टर पर लगाया जा रहा है.

पम्मा गैंगस्टर एक दर्जन से ज्यादा अपने समर्थकों के साथ 3 गाड़ियों में सवार होकर आया था, जिन्होंने युवकों पर हमला किया है. हमले के बाद से ही सभी आरोपी मौके से फरार हो गए.

चारों युवक गंभीर रूप से घायल हैं, जिनका बद्दी के सरकारी अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है. फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है और पुलिस आरोपियों को जल्द पकड़ने की बात कह रही है.

जब से भाजपा सरकार बनी, तब से बद्दी में अपराधिक घटनाएं बढ़ी : राम कुमार
घटना की निंदा करते हुए दून के पूर्व विधायक चौधरी राम कुमार ने कहा है कि जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है तब से बद्दी में अपराधिक घटनाएं लगातार बढ़ रही है और बदमाश बाहरी राज्यों से गुंडों को लाकर यहां स्थानीय लोगों पर हमले कर रहे हैं.

‘एक महीने पहले की थी चचेरे भाई की हत्या’
पूर्व विधायक का कहना है कि बीते 1 महीने पहले उनके चचेरे भाई की भी इसी तरह हत्या कर दी गई थी और बीते 4 महीनों में भाजपा की सरकार के समय बद्दी में 50 से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं. उन्होंने पुलिस प्रशासन व सरकार से आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर