हमीरपुर में कितने तेंदुए, जानने के लिए होगा सर्वे

Jagbir Singh | News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 10:49 AM IST
हमीरपुर में कितने तेंदुए, जानने के लिए होगा सर्वे
शिमला के ढांडा में तेंदुआ. (फाइल फोटो)
Jagbir Singh | News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 10:49 AM IST
हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले में तेंदुओं की संख्या को लेकर वन विभाग सर्वे कराएगा. आखिरकार तेंदुआ आए दिन खूंखार क्यों होता जा रहा है? साथ ही दिनों-दिन इंसान पर बढ़ते हमलों को जानने के लिए विभाग पहल कर रहा है.

हमीरपुर वन विभाग जंगलों का मुआयना करके पता लगाया जाएगा कि उसके कार्यक्षेत्र में जगंलों में तेंदुओं की कितनी तादाद है. हमीरपुर वन परिक्षेत्र में 19 से 26 नवंबर तक सर्वे होगा. तेदुएं से निपटने के लिए प्रारूप तैयार किया जा रहा है.हमीरपुर में वर्कशाप में वन विभाग के कर्मचारियों ने हिस्सा लिया.

डीएफओ वन्य प्राणी हमीरपुर प्रीति भंडारी ने बताया कि 19 से 26 नवंबर तक जंगलों में जाकर वन विभाग सर्वे करेगा, ताकि पता लगाया जा सके कि जंगलों में किस तरह के प्राणी है? जानवर जंगलों से पलायन क्यों कर रहे हैं? साथ ही तेदुएं की प्रजातियों के बारे में पता लगाया जाएगा.

आज तक कोई सर्वेक्षण नहीं हुआ

वन मंडल हमीरपुर का कुल क्षेत्रफल 1118 वर्ग किलोमीटर है. इस वन मंडल के अधीन पांच वन रेंज 15 वन ब्लॉक और 70 वन बीटस हैं.
डिवीजन के लगभग सभी क्षेत्र में मानव और तेंदुए के संघर्ष के कई मामलों की सूचना आती रहती है. लेकिन मानव और तेंदुए के संघर्ष की गंभीरता का आंकलन करने के लिए आज तक कोई सर्वेक्षण नहीं किया गया है. ना ही संघर्ष क्षेत्र को पहचानने और उसे उजागर करने के लिए कुछ हुआ.

बेहतर नीतियां बनाने में मिलेगी मदद
क्षेत्रीय डिवीजनों के कर्मचारी इसका सामना नियमित आधार पर करते हैं. यदि इस सर्वेक्षण को फील्ड क्षेत्र में किया जाता है तो इससे बेहतर योजना बनाने और ऐसे मुद्दों से निपटने में संबंध की नीतियों को विकसित करने में मदद मिलेगी.

बैठक में वन अरणयपाल अनिल जोशी, डीएफओ हैडक्वाटर संगीता चंदेल, आरएस गोमा और डीएफओ वन्य प्राणी प्रीति भंडारी मौजूद रहे.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर