Home /News /himachal-pradesh /

...तो इसलिए CM से आधे-अधूरे पुल का ऑनलाइन उद्घाटन करवा रहा है PWD विभाग

...तो इसलिए CM से आधे-अधूरे पुल का ऑनलाइन उद्घाटन करवा रहा है PWD विभाग

हमीरपुर में निर्माणाधीन पुल.

हमीरपुर में निर्माणाधीन पुल.

विभाग चाहता है कि सीएम को उनकी बेपरवाही का पता नहीं चलना चाहिए.

    हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम 31 अक्तूबर को हमीरपुर जिले के दौरे पर होंगे. यहां पर वह आधे-अधूरे निर्माण कार्यों का उद्घाटन करेंगे.

    सबसे अहम बात यह कि पीडब्ल्यूडी विभाग वीडियो कॉन्फ्रैंसिंग के जरिये एक पुल का उद्घाटन करवाएगा, ताकि उसकी लापरवाही सीएम के सामने ना आ सके. उधर, लोगों ने आधे-अधूरे पुल के उद्घाटन को लेकर रोष जताया है.

    जानकारी के अनुसार, हमीरपुर के दो किलोमीटर दूर शिमला-धर्मशाला को जोडने वाले मार्ग पर डुग्घा पुल का काम निर्धारित समय सीमा में नहीं हो पाया है. पीडब्ल्यूडी विभाग 31 अक्तूबर को सीएम जयराम ठाकुर से पुल का आनन-फानन में उद्घाटन करवाने जा रहा है. डुग्घा पुल का काम पूरी तरह से अधूरा है. टायरिंग से लेकर रेलिंग का काम भी नहीं हुआ है.

    पुल के साथ लगते पेड़ भी नहीं काटे गए हैं. उधर, डुग्घा के ग्रामीणों की ओर से पिछले तीन महीनों से पुल के काम में तेजी लाने की गुहार लगाई जा रही है, लेकिन फिर भी काम धीमी गति से चल रहा है.

    ऑनलाइन कॉन्फ्रैंस के जरिये पुल के उद्घाटन को लेकर लोगो में गहरा रोष है. लोगों का कहना है कि लोक निर्माण विभाग सरकार को अंधेरे में रखकर पुल की कमियों पर पर्दा डालना चाहता है. विभाग चाहता है कि सीएम को उनकी बेपरवाही का पता नहीं चलना चाहिए, इसलिए ऑनलाइन ही उद्घाटन होगा.

    ये भी पढ़ें : पहले मारपीट की और फिर गाड़ी के पीछे बांधकर घसीटा, घायल PGI रैफर

    नशे के खिलाफ पुलिस को मिली कामयाबी, दो युवकों को 10 ग्राम चिट्टे के साथ पकड़ा

    IIT मंडी में ‘फुंक सोग वांगड़ू’ बोले, मेकेनिकल इंजीनियरिंग के खिलाफ थे पिता, खुद जुटाई फीस

    कसोल में खाई में गिरी कार, 1 शख्स की मौत, 1 घायल

    HPU में दीक्षांत समारोह: बेटियों की ‘धमक’, राष्ट्रपति करेंगे मेधावियों को सम्मानित

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर