हमीरपुर में बच्ची के लिए झूला बना फंदा, सात साल की बबीता की मौत

हमीरपुर इलाके की घटना (सांकेतिक फोटो)

Hamirpur News: पंचायत प्रधान देशराज चंदेल और उपप्रधान अनिल कुमार ने इस बारे पुलिस को सूचित किया. चौकी प्रभारी ज्ञान चंद ने कहा कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

  • Share this:
    हमीरपुर. हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले की में एक सात साल की बच्ची की दम घुटने से मौत गई. बच्ची का झूला उसके लिए फंदा बन गया. हमीरपुर जिले की पुलिस चौकी अवाहदेवी के तहत सात वर्षीय बच्ची की दुपट्टे से बने झूले में फंसने से मौत हो गई है. अनिल कुमार और उसकी पत्नी सुनीता देवी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं. वह तीन बच्चों सहित अवाहदेवी कस्बे में एक कमरे में रहते हैं और मजदूरी करते हैं. सोमवार सुबह वह अपने कमरे से निकलकर ऊपर की मंजिल में कार्य करने आ गए. इनकी बड़ी बेटी बबिता (7), बेटा अमन (5) और कंचन (1) कमरे में थे.

    खिड़की से बांधा था दुपट्टा
    बबीता ने अंदर से कमरा बंद किया और दोनों छोटे भाई और बहनों के साथ खेलने लगी. उसने खिड़की के साथ दुपट्टे को बांधकर झूला बनाया और उसमें झूलने लगी. इसी दुपट्टे का झूला उसके गले का फंदा बन गया. उसके छोटे भाई और बहन अंदर रोने लगे और अंदर से बच्चों के रोने की आवाज सुनकर माता-पिता कमरे की ओर दौड़े तो कमरा अंदर से बंद था. जैसे-तैसे कमरे को खोला गया, लेकिन तब तक बबिता की मौत हो चुकी थी. इसकी सूचना पंचायत प्रधान देशराज चंदेल और उपप्रधान अनिल कुमार को दी गई. उन्होंने इस बारे पुलिस को सूचित किया. चौकी प्रभारी ज्ञान चंद ने कहा कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.