अपना शहर चुनें

States

हिमाचल पंचायत चुनावः वाह ‘भाई’ वाह, 5 वोटों से जीत बड़ा प्रधान बना, तो छोटा भाई उपप्रधान

हमीरपुर में दो भाइयों ने जीता चुनाव.
हमीरपुर में दो भाइयों ने जीता चुनाव.

Himachal Pradesh Panchayat Elections: हिमाचल प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के दूसरे चरण के चुनाव नतीजों में बड़ी रोचक तस्वीरें देखने को मिल रही है. हमीरपुर की “भुक्कड़ पंचायत” में दो भाइयों ने प्रधान और उपप्रधान पद अपनी झोली में डाल सबको मात दे दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 11:15 AM IST
  • Share this:
हमीरपुर. हिमाचल प्रदेश में दूसरे दौर के पंचायत चुनाव (Himachal Panchayat Elections) में बड़ी ही रोचक तस्वीरें देखने को मिल रही हैं. ऐसी ही एक खबर हमीरपुर जिले (Hamirpur District) से मिली है. जिले के उपमंडल भोरंज में भुक्कड़ नाम की एक पंचायत है, जहां चुनाव में 5 वोट से जीत कर बड़ा भाई उपप्रधान बन गया, तो छोटा भाई चुनाव में बाजी मारते हुए उपप्रधान बन गया.

बता दें कि राज्य में दूसरे चरण में 1,208 पंचायतों में हुए चुनाव में 80 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था, जबकि पहले दौर में 77 फीसदी वोटिंग हुई थी. दूसरे चरण में हमीरपुर जिले की पंचायत में प्रधान पद के लिए किशोर चन्द और उपप्रधान पद के लिए उनके छोटे भाई वीर सिंह ने नामांकन (Nominations) भरा था. खास बात यह रही कि दोनों ही भाई चुनाव जीत गए.

इस बार था कड़ा मुकाबला
बड़े भाई किशोर चंद पूर्व में भी पंचायत के प्रधान रहे हैं, लेकिन इस बार उनका मुकाबला कड़ा था. उनकी प्रतिद्वंदी भी पूर्व पंचायत प्रधान रह चुकी हैं. इस चुनाव में किशोर चन्द को 325 वोट पड़े. वहीं, पूर्व प्रधान सन्तोष कुमारी को 320 मत पड़े. किशोर चन्द मात्र 5 वोटों से विजयी रहे.
पूर्व में भी रहे उप-प्रधान


छोटे भाई वीर सिंह भी पिछली पंचायत में उप-प्रधान रहे हैं. उन्होंने इस बार काफी वोटों से विजय हासिल की है. इस चुनाव में वीर सिंह को 393 व उनके प्रतिद्वंदी बेसरू राम को 225 मिले.

तीसरे चरण की वोटिंग 21 जनवरी को
हिमाचल प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के दूसरे चरण में 1,208 पंचायतों में 80 फीसदी मतदान हुआ था. पहले चरण में 77 फीसदी वोटिंग हुई है. अब दूसरे चरण में 75 कोरोना संक्रमितों और होम क्वारंटीन मतदाताओं ने भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोविड नियमों का पालन करते हुए मतदान किया. अब तीसरे चरण में 21 जनवरी को मतदान होगा. 22 जनवरी को जिला परिषद और बीडीसी सदस्यों के परिणाम घोषित होंगे और 27 जनवरी से पहले पंचायतों की पहली बैठक होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज