लाइव टीवी

‘सस्ती शराब’ पर सियासत: मंत्री कंवर बोले-वीरभद्र सरकार में चहेतों के लिए बनी थी लीकर पॉलिसी
Hamirpur News in Hindi

Jasbir Kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 20, 2020, 5:29 PM IST
‘सस्ती शराब’ पर सियासत: मंत्री कंवर बोले-वीरभद्र सरकार में चहेतों के लिए बनी थी लीकर पॉलिसी
हिमाचल के मंत्री वीरेंद्र कंवर.(File Photo)

Politics on Cheaper Liquor in Himachal: हिमाचल में शराब महंगी होने के कारण ब्लैक में बिक रही है और इस धंधे को समाप्त करने के लिए नीति में सशोधन किया गया है.

  • Share this:
हमीरपुर. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) सरकार की नई आबकारी नीति के तहत शराब सस्ती करने के फैसले कांग्रेसी नेताओं की बयानबाजी पर ग्रामीण विकास पंचायती राज, पशु पालन एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर (Virender Kanwar) ने पलटवार किया है. मंत्री कंवर ने कहा कि वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) की सरकार में आबकारी नीति चहेतों के लिए बनाई गई थी. जो पैसा कोष में जाना था, वह पैसा वीरभद्र सिंह के चहेतों की जेब मे जाता था. लेकिन पहली बार हिमाचल में बीजेपी (BJP) सरकार के समय में तीन करोड़ से ज्यादा मुनाफा सरकार को हुआ है.

हिमाचल में शराब (Liquor) महंगी होने के कारण ब्लैक में बिक रही है और इस धंधे को समाप्त करने के लिए नीति में सशोधन किया गया है. यह प्रदेश हित में है. उन्होंने कहा कि ब्लैक मार्केटिंग खत्म होगी और प्रदेश सरकार का राजस्व भी बढेगा.

यह भी बोले मंत्री
हमीपुर में ग्रामीण विकास पंचायती राज, पशु पालन एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने एक कार्यक्रम के बाद यह नई शराब नीति पर जारी सियासी घमासान पर यह बयान दिया. मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि आज बाबा के दरबार में माथा टेका है. राजेन्द्र गिरि महाराज के समय में मंदिर न्यास ने काफी बढ़िया काम किया है. अब बरसी पर उन्हें याद किया जा रहा है.



विधानसभा सत्र को लेकर यह बोले
25 फरवरी से शुरू हो विधानसभा सत्र को लेकर वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि जब-जब बीजेपी की सरकार सता में आती है तो गरीब लोगों और किसानों की चिंता करती है. 1977 में जब भाजपा सरकार सत्ता में आई थी तो उस समय भी प्रदेश में अंत्योदय योजना तथा पेयजल योजना की शुरूआत की गई थी. 1998 में धूमल सरकार में ग्रामीण विकास को लेकर पेयजल तथा सडक़ों के नेटवर्क को सुदृढ़ कर विकास के नए-नए आयाम स्थापित किए गए थे. 15वें वित्त आयोग के तहत पंचायत को विकास कामों के लिए मिले प्रावधान पर वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि नए वित्त आयोग के तहत भी पंचायतों में विकास होगा. उन्होंने कहा कि 15 वें वित आयोग के तहत पैसों का आवंटन किया जाएगा और लोगों के काम पूरे किए जाएंगे.

ये भी पढ़ें-‘सस्ती शराब’ पर भारी हंगामा: युकां ने हाथों में खाली बोतलें लेकर जताया विरोध

हिमाचल सरकार बोली- टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए घटाए शराब के दाम

PubG खेलते-खेलते हिमाचल से महाराष्ट्र पहुंचा नाबालिग, पुलिस ने ऐसे की तलाश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हमीरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 5:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर