लाइव टीवी

राम मंदिर मामला: तीन दशक से लोग कर रहे इंतजार, जल्द हो फैसला: अनुराग ठाकुर
Hamirpur News in Hindi

Jasbir Kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 30, 2018, 4:33 PM IST
राम मंदिर मामला: तीन दशक से लोग कर रहे इंतजार, जल्द हो फैसला: अनुराग ठाकुर
FILE PHOTO: अनुराग ठाकुर, भाजपा, सांसद.

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से बीजेपी के सांसद अनुराग ठाकुर ने राम मंदिर के मुद्दे पर कहा है कि इस मामले में जल्द निर्णय आना चाहिए और इसमें विलंब नहीं होना चाहिए.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से बीजेपी के सांसद अनुराग ठाकुर ने राम मंदिर के मुद्दे पर कहा है कि इस मामले में जल्द निर्णय आना चाहिए और इसमें विलंब नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी गुजर रही है लेकिन न्यायालयों के फैसले नहीं आते हैं. न्यायालय के निर्णय आने में वर्षों लग जाते हैं. समाज से जुड़े विषयों का निर्णय जल्द होना चाहिए ताकि इनका लाभ लोगों को मिल सके. अनुराग ठाकुर ने कहा कि लोग तीन दशकों से निर्णय का इंतजार कर रहे हैं.

सांसद अनुराग ठाकुर हमीरपुर में एबीवीपी के मिशन साहसी कार्यक्रम के दौरान पहुंचे और इस दौरान अनुराग ठाकुर ने छात्राओं को स्किल डेवलपमेंट और पढ़ाई के दौरान बाधाओं को दूर करने के लिए आह्वान किया. अनुराग ठाकुर ने छात्राओं को अत्याचार और समस्याओं का डटकर सामना करने के लिए कहा.

प्रदेश में जनमंच कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस द्वारा उठाए जा रहे सवालों पर सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस कभी जनता से जुड़ी नहीं है और जनता से दूरी बनाती रही है. उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में गरीब का बेटा मुख्यमंत्री बना है और जनता के दर्द को समझा है इसलिए कांग्रेस को उन्हें लेकर ऐतराज नहीं जताना चाहिए.

उन्होंने जनता से आह्वान किया है कि जनता सब्र करे कांग्रेस के रूकवाए गए कामों को भी बीजेपी ही अमलीजामा पहनाएगी.

यह भी पढ़ें: जान जोखिम में डालकर नहर में गिरे गाय-बैल बचाए, मंत्री-सांसद ने बढ़ाया हौंसला 

HPU में दीक्षांत समारोह: राष्ट्रपति करेंगे मेधावियों को सम्मानित, बेटियों की दिखेगी ‘धमक’ 

IIT मंडी में छठे दीक्षांत समारोह में 211 छात्रों को दी गई डिग्रियां, दो को मिले गोल्ड मेडल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हमीरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2018, 4:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर