धर्मशाला में हुई भारी बर्फबारी, 70 से ज्यादा टूरिस्ट फंसे, सामने आया मदद मांगते हुए वीडियो

हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी से चारों तरफ बर्फ की मोटी चादर सी बिछ गई है.

हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी से चारों तरफ बर्फ की मोटी चादर सी बिछ गई है.

सोमवार सुबह कुछ स्थानीय लोगों की ओर से हिमपात वाली जगह पर खड़े होकर जिलाधीश राकेश प्रजापति के नाम उनसे गुहार लगाते हुए वीडियो वायरल हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 28, 2020, 12:45 PM IST
  • Share this:

धर्मशाला. जिला प्रशासन कांगड़ा (Kangra) की पर्यटन नगरी धर्मशाला (Dharmshala) के पर्यटन स्थलों पर घूमने गये कई पर्यटकों के फंसने की जानकारी मिली है. जिसको मद्देनजर रखते हुए जिला प्रशासन की ओर से उन लोगों को रेस्कयू करने के लिये टीमों का गठन कर दिया गया है और उन्हें मौकास्थल पर रवाना भी कर दिया गया है. दरअसल सोमवार सुबह कुछ स्थानीय लोगों की ओर से हिमपात (Snowfall) वाली जगह पर खड़े होकर जिलाधीश राकेश प्रजापति के नाम उनसे गुहार लगाते हुए वीडियो वायरल हुआ.

वीडियो में युवा खुद को शाहपुर के करेरी गांव के निवासी बता रहे थे और उसमें उन्होंने जिलाधीश राकेश प्रजापति से फरियाद लगाई कि करेरी गांव से करीब 14 किलोमीटर ऊपर पर्यटन स्थल कर करेरी लेक में करीब 70 से 80 लोगों का ग्रुप बतौर सैलानी बनकर गया हुआ था, जहां पहले से ही चार से पांच फीट बर्फ जमी हुई थी. मगर भारी हिमपात होने के कारण अब वहां अनुमानित 9 से 10 फीट बर्फबारी हुई होगी. ऐसे में टेंट में रात काटने वाले वो सैलानी किन हालातों में रहे होंगे ये बात सोचकर वो बहुत घबराये हुए हैं और उन लोगों का जल्द से जल्द रेस्कयू करना बेहद ज़रूरी है.

न्यूज़18 के हाथ लगे इस वायरल वीडियो को जब जिलाधीश राकेश प्रजापति के ध्यान में लाया गया तो उन्होंने तुरंत इस पर एक्शन लेने और रेस्कयू टीम को भेजने की बात कही है और साथ ही स्थानीय लोगों से संपर्क कर इस हिमपात वाली जगह में कितने लोग फंसे होंगे ये जानकारी भी हासिल की जा रही है. दरअसल करेरी जाने वाले लोगों की प्रशासनिक स्तर पर किसी भी प्रकार की एंट्री नहीं होती यही वजह है कि भारी हिमपात में फंसे ये लोग कौन है और कहां से ताल्लुक रखते हैं यह जानकारी मिल पाना फिलहाल सबके लिये बेहद पेचीदगी भरा वाकया बन चुका है. फिर भी स्थानीय लोगों की मानें तो इनमें से ज्यादातर लोग दिल्ली जबकि हिमाचल समेत बाकी राज्यों के भी शामिल हैं.

कांगड़ा के पुलिस अधीक्षक विमुक्त रंजन ने फोन पर जानकारी देते हुए बताया कि मौके वाली जगह पर टीम रवाना कर दी गई है. वहां जाकर ही ये जानकारी मिल पायेगी कि ये लोग कहां के रहने वाले हैं फिलहाल रेस्कयू ऑपरेशन के लिए टीम जिला मुख्यालय धर्मशाला से रवाना हो चुकी है. बता दें कि आज की तारीख में करेरी गांव शाहपुर का उभरता हुआ सबसे बड़ा पर्यटन स्थल बन चुका है यहां हर सीजन में हर साल हजारों की संख्या में पर्यटक पहुंचने लगे हैं, जिसको मद्देनजर रखते हुये सरकार और प्रशासन की ओर से भी यहां पर्यटन विभाग के आयामों को स्थापित किया जाने लगा है. जिसमें से करेरी धार में एक सराय भी बनाई गई है. दरअसल ये जो लोग करेरी धार में फंसे हुए हैं वो भी उस सराय में ही शरण लिये हुए हो सकते हैं और ये सराय करेरी गांव से करीब 1 किलोमीटर ऊपर बताई जा रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज