हिमाचल: सोलन डिपो से पहले दिन इन शहरों के लिए चलीं HRTC की बसें, यात्रियों में दिखी खुशी

सोलन डिपो में यात्रियों के लिए तैयार खड़ी बसें.
सोलन डिपो में यात्रियों के लिए तैयार खड़ी बसें.

कोरोना महामारी (Corona epidemic) के चलते सात महीने से खड़ी एचआरटीसी (HRTC) की बसों (Bus service) की सेवा आज से शुरू हो गई है. शिमला (Shimla) के सभी डिपो से आज राज्य के बाहर बस गईं. सोलन डिपो (Solan depot) से चंडीगढ़, थानाधार, शिमला नूरपुर, बद्दी के लिए बस रवाना हुईं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 6:39 PM IST
  • Share this:
सोलन. कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के अनलॉक-5 (Unlock-5) में सात महीन के बाद एचआरटीसी (HRTC) की बसें आज से दूसरे राज्यों के लिए शुरू हुई हैं. शुरुआती तौर पर अभी ज़्यादा बसों (Bus) को नहीं चलाया जा रहा है. केवल कुछ ही रूटों पर ही बस चलाने की अनुमति दी गई है. एचआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक सुरेश धीमान ने यह जानकारी मीडिया को दी है.

उन्होंने बताया कि कोविड संकट की वजह से बसों को अन्य राज्यों में जाने से रोक दिया गया था, जिसकी वजह से एचआरटीसी को भारी नुक्सान भी उठाना पड़ा और प्रदेश वासियों को भी भारी असुविधाओं का सामना करना पड़ा, लेकिन अब प्रदेश सरकार ने बसे चलाने की अनुमति दे दी है. उन्हें उम्मीद है कि बसें चलने से अब एचआरटीसी की वित्तीय स्थिति में भी सुधार होगा.

शिमला: देवानंद ने जिस स्कूल में की थी ‘लूटमार’ की शूटिंग, वहां अब चल रही लूट!



एचआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक सुरेश धीमान ने बताया कि अभी चार रूटों पर बसें चलाई जा रही हैं, जिसमें जगजीत नगर से चंडीगढ़ थानाधार भुटटी, शिमला चंडीगढ़ नूरपुर, सोलन बद्दी, शिमला चंडीगढ़ रूट शामिल है. उन्होंने कहा कि प्रदेशवासी जो बाहरी राज्यों में रहते हैं. उनकी काफी समय से मांग थी कि हिमाचल से अन्य राज्यों के लिए बसें चलाई जाएं.
उनकी मांग को देखते हुए बसों को चलाया गया है. उन्होंने कहा कि शादियों और त्योहारों का सीज़न भी आ चुका है जिससे उन्हें उम्मीद है कि बसों में फिर से पहले की तरह सवारियां मिलेंगी और एचआरटीसी अपने वित्तीय घाटे को पूरा कर सकेगी. उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों में जाने वाले चालकों परिचालकों को फेस शील्ड, मास्क, सैनेटाइजर और ग्लब्ज प्रतिदिन उपलब्ध करवाए जाएंगे. बसों को सैनेटाइज कराया जाएगा ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके.

बता दें कि कल हिमाचल प्रदेश के परिवाहन मंत्री बिक्रम सिंह ने एचआरटीसी की बसों को चलाने की अनुमति दी थी. यह फैसला पहले कैबिनेट में होने वाला था, लेकिन मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद होम क्वारंटीन हैं. इसके बाद मुख्यमंत्री के आदेश पर परिवहन मंत्री ने एचआरटीसी की बसों को चलाने की अनुमति दे दी. आज पहले दिन सात महीने के बाग एचआरटीसी की बसें चली हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज