औषधीय फसल कूठ की सिकुड़ रही खेती से केलांग के किसान हलकान

केलांग जिला मुख्यालय से करीब 70 किलामीटर दूर सलग्राॅ गंव के किसान इन दिनों कूठ के फसल में लगातार लग रहे कीड़ों से खासे परेशान हैं.

News18 Himachal Pradesh
Updated: July 31, 2019, 1:26 PM IST
औषधीय फसल कूठ की सिकुड़ रही खेती से केलांग के किसान हलकान
कूठ के फसल में लगातार लग रहे कीड़ों से किसान खासे परेशान हैं.
News18 Himachal Pradesh
Updated: July 31, 2019, 1:26 PM IST
हिमाचल प्रदेश के केलांग जिला मुख्यालय से करीब 70 किलामीटर दूर सलग्राॅ गंव के किसान इन दिनों कूठ के फसल में लगातार लग रहे कीड़ों से खासे परेशान हैं. इन कीड़ों से इन किसानों के ना सिर्फ खेत खराब हो रहे हैं बल्कि इनके खेत धीरे धीरे खराब हो रहे हैं. तीन साल में एक बार तैयार होने वाले उत्पाद के इस प्रकार से नष्ट होने के कारण किसानों के माथे पर चिंता की लकीर खींच गई है. कूठ औषधीय गुणों से भरपूर होता है और इस उत्पाद के तैयार होने पर बाजार में करीब दस से 15 हजार रुपये प्रति पचास किलो के हिसाब से बिकता है. विशष गुणों से युक्त लाहौल का कुठ देश विदेश में अपनी अलग पहचान रखता है.

किसान अब दूसरे फसलों की ओर दे रहे ध्यान

crops of kuth-कूठ की फसल
कूठ औषधीय गुणों से भरपूर होता है और इस उत्पाद के तैयार होने पर बाजार में करीब दस से 15 हजार रुपये प्रति पचास किलो के हिसाब से बिकता है.


कुठ में कीड़े लगने के चलते उसकी खेती खराब हो ही रही है, इसके अलावा उत्पाद का पैसा हासिल करने के मकसद से घाटी के ज्यादातर किसान आलू,गोभी व मटर पर ज्यादा ध्यान देने लगे हैं. इन हालात में केलांग प्रशासन को कुठ और अन्य औषधीय फसलों की खेतीबाड़ी के तरीके और तकनीकी सहायता प्रदान कर किसानों को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है.

किसानों को मुआवजा देने की मांग उठी

पर्यावरणविद तोग चन्द ठाकुर ने कहा कि सलग्राॅ के ज्यादातर किसानों के आय का मुख्य स्त्रोत किसानी है. लेकिन जिस प्रकार से कीडों ने कुठ की खेती को नष्ट किया गया है, यह बहुत ही पीड़ादायी है. कुठ की खराब हो रही खेती की वजह से उनके आय के साधन खत्म हो गए हैं. ऐसे में सरकार को उनके साथ सहानुभूति रखते हुए उचित मुआवजा देना चाहिए.

'कूठ की खेती करने वाले किसानों की समस्या का हल शीघ्र निकाला जाएगा'
Loading...

​किलांग जिला कृषि अधिकारी हेम राज वर्मा ने कहा कि सलग्रॉ के किसानों की समस्या उनके ध्यान में है, इसे शीध्र हल कर लिया जाएगा.

(केलांग से प्रेम लाल की रिपोर्ट)

यह भी पढ़ें: SPORTS: हिमाचलियों ने दिखाया दमखम, मलेशिया में महिला और पुरूष कबड्डी टीम ने जीता गोल्ड

महाकालेश्वर मंदिर का अबतक नहीं हुआ सरकारीकरण, चढ़ावे पर कुंडली मार कर बैठे महंत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए केलांग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 31, 2019, 1:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...