होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

हिमाचल में बारिशः लाहौल के तोजिंग नाले में आया सैलाब, दूल्हा-दुल्हन समेत 70 बाराती फंस गए

हिमाचल में बारिशः लाहौल के तोजिंग नाले में आया सैलाब, दूल्हा-दुल्हन समेत 70 बाराती फंस गए

बीआरओ के जवान ने दुल्हन को पीठ पर उठाकर नाला पार किया.

बीआरओ के जवान ने दुल्हन को पीठ पर उठाकर नाला पार किया.

Heavy Rain in Lahaul Spiti: लाहौल घाटी में बारिश से तमाम नदी-नाले उफान पर हैं. शक्स नाला, तोजिंग नाला, शांशा जाहलमा नाला समेत घाटी के तमाम नदी-नाले उफान पर हैं. बारिश के चलते रांगवे नाला में बाढ आ गई है और सड़क मार्ग अवरुद्ध है.

केलांग. हिमाचल प्रदेश की लाहौल घाटी के तोजिंग नाला में गुरुवार शाम को दूल्हा-दुल्हन समेत पूरी बारात फंस गई. तोजिंग नाला में करीब पांच बार पानी के साथ मलबा आया और इससे केलांग-उदयपुर-तिंदी सड़क मार्ग बंद हो गया. इस वजह से मंडी के नगवाईं से लाहौल के किशोरी गांव लौट रही बारात फंस गई. इसमें दूल्हा-दुल्हन के अलावा करीब 70 बाराती शामिल थे.

बारात फंसने की सूचना जब पुलिस, बीआरओ और होमगार्ड के जवानों को मिली तो वे मौके पर पहुंचे और सभी बारातियों को नाले के दूसरी तरफ से सुरक्षित किया गया. बीआरओ, पुलिस और होमगार्ड के जवानों ने कई बारातियों को पीठ पर उठाकर नाले से पार पहुंचाया. यही नहीं, बीआरओ के जवान ने दुल्हन को पीठ पर उठाकर नाला पार किया. दरअसल, गुरुवार सुबह लाहौल से मंडी के नगवाईं के लिए बारात आई थी. शाम के समय बारात दुल्हन के साथ किशोरी गांव जा रही थी.

मयाड़ वैली के करपट पुल के पास भारी जलाशय बना हुआ है.

लाहौल घाटी में बारिश से तमाम नदी-नाले उफान पर हैं. शक्स नाला, तोजिंग नाला, शांशा जाहलमा नाला समेत घाटी के तमाम नदी-नाले उफान पर हैं. बारिश के चलते रांगवे नाला में बाढ आ गई है और सड़क मार्ग अवरुद्ध है. कोकसर-ग्राम्फू-काजा सडक मार्ग कोकसर के पास कुठ बिहाल नामक स्थान में पत्थर गिरने के कारण बन्द है. जिला प्रशासन ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि घाटी के लगभग तमाम नदी नाले उफान पर हैं. ऐसे में नदी-नालों से दूर रहें.

विशेष पैकेज की मांग

जानकारी के अनुसार, मयाड़ वैली के करपट पुल के पास भारी जलाशय बना हुआ है. सड़क पानी में डूब गई है. लगातार बारिश से यहां बाढ़ का खतरा बना हुआ है. जिला कांग्रेस कमेटी लाहौल स्पीति के महासचिव अनिल ठाकुर ने प्रदेश सरकार से मांग कि है कि मुख्यमंत्री व जिला प्रशासन लाहौल स्पीति  मयाड़ के लिए विशेष पैकेज की घोषणा करें. क्योंकि पिछले वर्ष भी मयाड़ घाटी के चंगुट, करपट ,उडगोस,व छांलिग में बारिश से भारी नुक़सान हुआ था.

Tags: Heavy rain and cloudburst, Himachal pradesh, Shimla

अगली ख़बर