• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल: चंद्रताल झील से डूबे शख्स का शव बरामद, दोस्तों संग घूमने गया था राहुल

हिमाचल: चंद्रताल झील से डूबे शख्स का शव बरामद, दोस्तों संग घूमने गया था राहुल

लाहौल स्पीति की चंद्रताल झील में डूब गया था मनाली का राहुल.

लाहौल स्पीति की चंद्रताल झील में डूब गया था मनाली का राहुल.

Chandrataal Lake in Lahaul Spiti: एसडीएम ने कहा कि चंद्र ताल आने वाले पर्यटकों से आग्रह है कि झील में नहाना प्रतिबंधित है. कई बोर्ड इससे जुड़े झील के आसपास लगा रखे है. ऐसे में नियम माने और नहा कर झील को अपवित्र न करें.

  • Share this:

    केलांग (लाहौल स्पीति). हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के लाहौल-स्पीति में स्थित प्रसिद्ध चंद्रताल झील (Chandra Taal Lake) में डूबे राहुल का शव रेस्क्यू टीम ने निकाल लिया है. शव को शुक्रवार सुबह गोताखोरों ने रेस्क्यू कर दिया है. एसडीएम महेंद्र प्रताप सिंह की अगुवाई में रेस्क्यू कार्य शुरू हुआ था. सुंदरनगर से आए गोताखोरों ने कुछ ही मिनटों में शव को निकाला. शव झील के किनारे से करीब बीस फीट की दूरी और लगभग 18 फीट की गहराई पर था. डाइवर ने पहले ही प्रयास में शव तक पहुंच कर रिकवर कर लिया. इसके बाद पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया. फिर पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए काजा ले गई और सीएचसी काजा में शव का पोस्टमार्टम करवा दिया गया और फिर शव परिजनों को सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद सौंप दिया.

    मनाली का था युवक, दोस्तों संग गया था चंद्रताल

    मृतक की पहचान राहुल ठाकुर पुत्र लोत रामगांव जगतससुख, मनाली जिला कुल्लू के तौर पर हुई है. राहुल अपने चार दोस्तों के साथ चंद्र ताल घूमने आए थे. 22 जुलाई को सुबह के समय यह नहाने के लिए झील में गए और राहुल अचानक डूब गया. काजा उपमंडलाधिकारी महेंद्र सिंह प्रताप ने कहा कि शव को गोताखोरों ने रेस्क्यू कर लिया हैं.

    चंद्रताल झील में नहाना बैन

    एसडीएम ने कहा कि चंद्र ताल आने वाले पर्यटकों से आग्रह है कि झील में नहाना प्रतिबंधित है. कई बोर्ड इससे जुड़े झील के आसपास लगा रखे है. ऐसे में नियम माने और नहा कर झील को अपवित्र न करें. क्योंकि इस झील की धार्मिक मान्यता भी है. इसके साथ ही स्पीति आने वाले सभी पर्यटकों से अपील करते हुए कहा कि स्पीति के किसी भी नाले, तालाब, झील में बेवजह न जाए. इसके साथ ही स्पीति में पर्यटक अपने आप को यहां की जलवायु के हिसाब से शारीरिक और मानसिक तौर पर तैयार कर लें. सभी पर्यटक व्यर्थ में बहादुरी दिखाने के लिए अपनी जान को किसी भी प्रकार के खतरें में न डालें. घाटी पर्यटकों को आकर्षण का केंद्र है. सेव चंद्र ताल सोसाइटी के उपाध्यक्ष ने कहा कि पर्यटकों को बार समझाया जाता है, फिर भी लोग नियम तोड़ रहे हैं. झील में नहाना पूरी तरह गलत है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज