लाहौल घाटी में इंटरनेट और दूरसंचार सेवा चरमरी, लोग परेशान

Prem | ETV Haryana/HP
Updated: August 13, 2017, 8:08 PM IST
लाहौल घाटी में इंटरनेट और दूरसंचार सेवा चरमरी, लोग परेशान
केलांग की तस्वीर.
Prem | ETV Haryana/HP
Updated: August 13, 2017, 8:08 PM IST
हिमाचल प्रदेश के केलांग जिले के लाहौल घाटी में इंटरनेट और दूरसंचार सेवा चरमरा गई है. लोगों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. आए दिन इंटरनेट सेवा खराब रहने से सरकारी और गैर सरकारी कार्य प्रभावित हो रहे हैं. लेकिन प्रभावित, सम्बन्धित विभाग अपनी सेवाओं को चुस्त दुरूस्त करने के लिए कोई कदम नहीं ले रहा है.

जनजातीय इलाका लाहौल घाटी हिमाचल प्रदेश के दुर्गम इलाकों में से एक है. यह राज्य के करीब 24 प्रतिशत भू भाग में फैला हुआ है. जनसंख्या कम होने के बावजूद भौगोलिक स्थिति के चलते हरेक गांव दूर-दूर बसे हुये हैं. वहीं सर्दियों के दिनों में समूचा इलाका हिम से ढक जाता है.

ऐसे में दूरसंचार व इंटरनेट सेवा की बड़ी एहमियत रहती है. सड़क मार्ग कट जाते हैं. आवाजाही शून्य हो जाता है. ऐसे में दूरसंचार व इंटरनेट सेवा किसी फरिश्ते से कम नहीं हैं.

वहीं सरकारी व गैरसरकारी कार्य ऑन लाइन प्रक्रिया से चलते हैं. ऐसे में अन्दाजा लगाया जा सकता है कि घाटी के लोगों को किस मुश्किल से गुजरना पड रहा है.

घाटी के पंचायत प्रतिनिधि भी सम्बन्धित विभाग व प्रशासन से मिल चुके हैं तथा समस्या का स्थायी समाधान करने की गुहार लगा चुके हैं लेकिन विभाग इस ओर कतई ध्यान नहीं दे रहा है. सड़क चौड़ाई का बहना बनाकर घाटी के लोगों को सुचारू सेवाएं देने में नाकामयाब साबित हो रहो है.

 
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर