लाहौल के किसान ने उगाई 17.2 किलो की एक गोभी, हर कोई हैरान

गोभी के फूल को उठाए किसान सुनील.
गोभी के फूल को उठाए किसान सुनील.

लाहौल स्पीति के आलू और मटर देश-दुनिया भर में मशहूर है. यहां बड़े पैमाने पर इन नकदी फसलों की खेती की जाती है. यूं कहें कि लाहौल की अर्थव्यवस्था इन दो फसलों पर निर्भर है. इसके अलावा, लाहौल में सेब की पैदावार भी होती है.

  • Share this:
खंगसर (लाहौल स्पीति). हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति (Lahual Spiti) में एक किसान (Farmer) के खेत में 17.2 किलो का एक गोभी (Cauliflower) उगाई है. गोभी को देखकर हर कोई हैरान है. दरअसल, आम तौर पर देखा जाता है कि गोभी का फूल एक दो या तीन किलो तक होता है. लेकिन एक 17.2 किलो का एक फूल देखकर हर कोई हैरान है.

पेश से किसान और ग्रेजुएट हैं सुनील
जानकारी के अनुसार, लाहौल के रलिंग गाँव के किसान सुनील कुमार पेशे से किसान हैं. उन्होंने ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई की है. जैविक खेती के जरिए कुछ नया प्रयोगों की बदौलत सुनील कुमार ने 17.2 किलो का एक गोभी तैयार किया.

17.2 किलो का गोभी का फूल.

क्या बोला किसान


उनके प्रयोगों से 17 किलो का एक गोभी के खबर ने देश के कृषि विश्वविद्यालय और कृषि अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिकों को भी हैरान परेशान कर दिया है. किसान कहते हैं कि उनके परिवार ने शुरुआत से ही जैविक खेती पर ध्यान दिया. अमूमन गोभी का फूल दो किलो का होता है, लेकिन उन्होंने इस साल 17.2 किलो का उगाया है. अगर आप कृषि संबंधित नई तकनीकी और नए शोध की जानकारी चाहते हैं, तो किसान सुनील से संपर्क कर सकते हैं.

लाहौल के आलू है फैमस
गौरतलब है कि लाहौल स्पीति के आलू और मटर देश-दुनिया भर में मशहूर है. यहां बड़े पैमाने पर इन नकदी फसलों की खेती की जाती है. यूं कहें कि लाहौल की अर्थव्यवस्था इन दो फसलों पर निर्भर है. इसके अलावा, लाहौल में सेब की पैदावार भी होती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज