लाहौल-स्पीति के लोगों का सांसदों से हुआ मोहभंग, कहा- 5 साल तक नजर नहीं आते ये
Keylong News in Hindi

लाहौल-स्पीति के लोगों का सांसदों से हुआ मोहभंग, कहा- 5 साल तक नजर नहीं आते ये
लाहौल-स्पीति के लोगों का सांसदों से हुआ मोहभंग, कहा- 5 साल तक नजर नहीं आते ये

लाहौल-स्पीति के लोगों का सांसदों से मोहभंग हो चुका है. लोगों का कहना है कि अक्सर चुनावों के दौरान ही सांसद वोट मांगते नजर आते हैं. उसके बाद 5 साल कहीं दिखाई नहीं देते.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के केलांग जिले में लाहौल-स्पीति के लोगों का सांसदों से मोहभंग हो चुका है. लोगों का कहना है कि अक्सर चुनावों के दौरान ही सांसद वोट मांगते नजर आते हैं. उसके बाद 5 साल कहीं दिखाई नहीं देते.

बता दें कि देश के सबसे दुर्गम इलाकों में शुमार जनजातीय जिला लाहौल-स्पिति में करीब 24 हजार मतदाता हैं. यहां के मूल लोगों की जनसंख्या काफी अधिक है, लेकिन जिले में मूलभूत सुविधाओं की कमी के चलते परिवार के ज्यादातर लोग कुल्लू मनाली और प्रदेश के दूसरे इलाकों में रहते हैं.

लोगों का कहना है कि सर्दियों के दिनों में दूरसंचार, इंटरनेट, स्वास्थ्य सेवाएं, सड़क मार्ग अवरूद्ध होने के कारण उन्हें कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. जिले के लोग चुने हुए नुमाइंदों से इन सुविधाओं को हासिल करने के लिए उम्मीद भरी निगाहों से देखते हैं, लेकिन यही उम्मीदें अगर पानी में मिल जाए तो ठेस तो अवश्य ही पहुंचती है.



समय इन दिनों लोकसभा चुनावों का है, तो लाहौल की जनता ऐसे सांसद को संसद में भेजने के लिए अपेक्षा कर रही है जो जनजातीय इलाकों के लोगों का दुख दर्द समझे और उनके हितों की रक्षा कर सके.
 

(केलांग से प्रेम लाल की रिर्पोट)

ये भी पढ़ें:- लोकसभा चुनाव 2019: फुलबाड़ा के ग्रामीण पक्की सड़क और स्वास्थ्य सेवाओं से महरूम, नहीं डालेंगे वोट

ये भी पढ़ें:- राहुल गांधी पर ‘अभद्र टिप्पणी’ मामले में हिमाचल BJP अध्यक्ष सत्ती को EC का नोटिस

ये भी पढ़ें:- कांग्रेस नेता मुकेश की चुनाव आयोग से मांग, ‌BJP अध्यक्ष सत्ती के प्रचार पर लगाए बैन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज