Assembly Banner 2021

गुशैणी में अवैध कब्जे पर कार्रवाई करने आई टीम का विरोध

अवैध कब्जे पर कार्रवाई करने आई टीम का विरोध करते स्थानीय लोग.

अवैध कब्जे पर कार्रवाई करने आई टीम का विरोध करते स्थानीय लोग.

हाईकोर्ट के निदेर्शानुसार कुल्लू जिले को उपमंडल बंजार की तीर्थन घाटी के गुशैणी में अवैध कब्जा हटाने गई टीम को कब्जाधारकों के विरोध का सामना करना पड़ा. कार्रवाई के समय तनातनी इतनी बढ़ गई थी कि कब्जा धारक कब्जा हटाने गई टीम के साथ हाथपाई तक उतर आए थे.

  • Share this:
हाईकोर्ट के निदेर्शानुसार कुल्लू जिले को उपमंडल बंजार की तीर्थन घाटी के गुशैणी में अवैध कब्जा हटाने गई टीम को कब्जाधारकों के विरोध का सामना करना पड़ा. उप मंडल अधिकारी बंजार अपूर्व देवगन की अगुवाई में गई वन विभाग, पुलिस और राजस्व विभाग की टीम का लोगों ने विरोध किया. कार्रवाई के समय तनातनी इतनी बढ़ गई थी कि कब्जा धारक कब्जा हटाने गई टीम के साथ हाथपाई तक उतर आए थे.

एसडीएम बंजार ने सूझबूझ के साथ मामले को आखिर में निपटा लिया और 9 में से 5 कब्जा धारकों के भवनों को सीज किया. दो वर्ष पूर्व गुशैणी के अवैध भवनों को खाली करवाने की प्रक्रिया सराज वन मंडल और वन्य प्राणी वन मंडल ने शुरू की थी.

हाईकोर्ट के सख्त आदेशों पर कार्रवाई करते हुए प्रशासनिक अमले ने गुशैणी में लगभग 5 घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद 9 में से 5 कब्जा धारकों के भवनों सीज किए. इसमें एक कांगडा बैंक का एटीएम भी खाली करवाया गया, जबकि 9 के अतिरिक्त शेष बचे 4 कब्जा धारकों को सख्त हिदायत देते हुए कुछ समय जनवरी मास के पहले सप्ताह के अंतराल में खाली करने के निर्देश जारी किया गया है.



बंजार एसडीएम अपूर्व देवगन जीएचएनपी वन परिक्षेत्र अधिकारी हेमराज सर्वटा और थाना प्रभारी कर्म चंद राव ने कहा कि 9 में 5 कब्जा धारकों के भवनों को सील करते हुए वन विभाग के हवाले कर दिया गया है. बाकी बचे 4 कब्जा धारकों सहित स्टेट बैंक परिसर को भी जनवरी माह के पहले सप्ताह तक खाली करने के निर्देश जारी किए गये है अन्यथा प्रशासन को सख्त रवैया अपनाने पर मजबूर होना पडे़गा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज