अपना शहर चुनें

States

'अपने गिरेबान में झांके परिवारवाद के आरोप लगाने वाले भाजपाई'

आदित्य विक्रम सिंह,कांग्रेस प्रत्याशी, बंजार विधानसभा क्षेत्र
आदित्य विक्रम सिंह,कांग्रेस प्रत्याशी, बंजार विधानसभा क्षेत्र

हिमाचल प्रदेश में नेताओं के बेटों और बेटियों को विधानसभा चुनावों में टिकट देने का मुद्दा गरमा गया है. इस बार के विधानसभा चुनावों में भाजपा नेता इस मुद्दे पर कांग्रेस के नेताओं पर जमकर निशाना साध रहे हैं.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश में नेताओं के बेटों और बेटियों को विधानसभा चुनावों में टिकट देने का मुद्दा गरमा गया है. इस बार के विधानसभा चुनावों में भाजपा नेता इस मुद्दे पर कांग्रेस के नेताओं पर जमकर निशाना
साध रहे हैं.

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं का कहना है कि हिमाचल प्रदेश में इस बार मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के पुत्र विक्रमादित्य सिंह समेत कई मंत्रियों के बेटे और बेटियों को टिकट दिए गए हैं. भाजपा नेताओं के
आरोपों पर पूर्व मंत्री स्व कर्ण सिंह के पुत्र आदित्य विक्रम सिंह ने पटलवार किया है.
 'नेता का बेटा नेता क्यों नहीं बन सकता है?'



आदित्य विक्रम सिंह ने कुल्लू के विधानसभा क्षेत्र में कहा कि कांग्रेस पर आरोप लगाने वाले भाजपा नेता पहले अपने गिरेबान में झांक लें. मुख्यमंत्री और मंत्रियों के बेटों और बेटियों के टिकट देने के मुद्दे पर आदित्य विक्रम सिंह ने कहा कि जब डॉक्टर का बेटा डॉक्टर बन सकता है. वकील का बेटा वकील बन सकता है तो नेता का बेटा नेता क्यों नहीं बन सकता है? यदि उसमें काबिलियत है तो उसे पार्टी का उम्मीदवार बनाने में क्या दिक्कत है?

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पर आरोप लगाने वाले भाजपा नेता यह भूल गए हैं कि उनके भी कई नेता नेताओं के भी पुत्र हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज