इन्वेस्टर मीट के बाद हिमाचल कैबिनेट में होगा फेरबदल: सीएम जयराम

सीएम ने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के तहत 75000 करोड़ के MoU साइन हो चुके हैं.

सीएम ने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के तहत 75000 करोड़ के MoU साइन हो चुके हैं.

सीएम ने कहा कि इन्वेस्टर प्रदेश में सबसे ज्यादा रुचि पर्यटन, कृषि ,बिजली, हाउसिंग सेक्टर में दिखा रहे हैं.

  • Share this:

कुल्लू. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Jairam Thakur) ने कहा कि प्रदेश में इन्वेस्टर मीट के बाद मंत्रिमंडल में फेरबदल (Cabinet Reshuffle) किए जाएंगे. साथ ही कहा कि फिलहाल उनकी प्राथमिकता पच्छाद और धर्मशाला में होने वाले विधानसभा के उपचुनाव हैं.

मीडिया के सवालों पर यह बोले

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर मीट (Global Investro Meet) में प्रदेश सरकार ने 85000 करोड़ रुपए इन्वेस्टमेंट का लक्ष्य रखा है. अब तक 75000 करोड़ रुपए के एमओयू (MoU) साइन हो चुके है. सीएम ने कहा कि 75000 करोड़ के एमओयू साइन होने के बाद जरूरी नहीं है कि सारे के सारे एमओयू में इन्वेस्टर इन्वेस्टमेंट करें. इसमें कुछ इन्वेस्टमेंट आएंगे और कुछ नहीं भी आएंगे, लेकिन हमने एक लक्ष्य निर्धारित किया है और उस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं. उन्होंने कहा, ' मैं उम्मीद करता हूं कि सफल होंगे.'



Youtube Video

उप-चुनाव में  मिलेगी जीत-सीएम

सीएम ने कहा कि इन्वेस्टर प्रदेश में सबसे ज्यादा रुचि पर्यटन, कृषि ,बिजली, हाउसिंग सेक्टर में दिखा रहे हैं. उन्होंने कहा कि इन्वेस्टर मीट के बाद मंत्रिमंडल में फेरबदल (Cabinet Reshuffle) करते हुए खाली पड़े पदों को भरा जाएगा. उन्होंने कहा कि आने वाले 2 उपचुनाव (By-Election) उनकी प्राथमिकता है और इन दोनों उपचुनावों में भाजपा बड़े अंतर के साथ जीत हासिल करेगी.

ये भी पढ़ें - शिमला:राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने पोर्टमोर गर्ल्स स्कूल का औचक निरीक्षण किया

ये भी पढ़ें - आंतकी हमले पर रेड अलर्ट: नूरपुर में 300 जवानों और कमांडो ने चलाया सर्च ऑपरेशन

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज