बढ़ती महंगाई व खराब कानून व्यवस्था के खिलाफ कांग्रेस का धरना

कुल्लू जिला मुख्यालय में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बढ़ती महंगाई व खराब कानून व्यवस्था के खिलाफ जिला स्तरीय धरना प्रदर्शन किया.

Tulsi Bharti
Updated: May 17, 2018, 7:00 PM IST
बढ़ती महंगाई व खराब कानून व्यवस्था के खिलाफ कांग्रेस का धरना
कुल्लू जिला मुख्यालय में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बढ़ती महंगाई व खराब कानून व्यवस्था के खिलाफ जिला स्तरीय धरना प्रदर्शन किया.
Tulsi Bharti
Updated: May 17, 2018, 7:00 PM IST
धरना-प्रदर्शन का नेतृत्‍व प्रदेश प्रवक्ता एवं मनाली ब्लॉक अध्यक्ष भुवनेश्वर सिंह गौड़ ने किया.  धरना-प्रदर्शन में कांग्रेस के सभी संगठनों पदाधिकारियों के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बड़ी संख्या में भाग लिया. ढालपुर पार्टी कार्यालय से उपायुक्त कार्यालय तक रोष रैली निकाली गई और कुल्‍लू उपायुक्‍त यूनुस को राज्‍यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा.

इस दौरान कार्यकर्ताओं ने केंद्र की भाजपा सरकार व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और देश में बढ़ रही महंगाई व खराब कानून व्यवस्था के लिए भाजपा की सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया. उनका कहना था कि देश-प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने में सरकार नाकाम रही है.

इस अवसर पर भुवनेश्वर सिंह गौड़ ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार के पिछले चार साल के कार्यकाल में कमरतोड़ महंगाई से आम जनता परेशान है और खाद्य पदार्थों की कीमतें आसमान छू रही हैं. यूपीए सरकार के वक्त जहां रसाई गैस की कीमत 484 रुपए थी, वो अब बढ़कर 700 रुपए हो गई है. डीजल और पेट्रोल की कीमतें आसमन छू रही हैं. दालों के दाम चार गुना बढ़ गए हैं, जिससे आम लोगों को दो वक्त की रोटी के लिए समस्या का सामना पड़ रहा है.

उन्‍होंने कहा कि देश-प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है और पुलिस को आम लोगों की सुरक्षा की कोई चिंता नहीं है. प्रदेश के लोगों की सुरक्षा रामभरोसे है. उन्होंने कहा कि जहां लोग शांतिपूर्वक ढंग से प्रदर्शन करते हैं, वहां पर सैकड़ों पुलिसकर्मी तैनात कर दिए जाते हैं और आम लोगों पर झूठे केस बनाए जाते हैं. इसके विपरीत प्रदेश में कहीं महिलाओं के साथ रेप और उनकी हत्या होती है, वहां पर पुलिस प्रशासन सोया रहता है. समाज में महिलाएं घरों से बाहर निकलने में कतराती हैं और लोग बेटियों को स्कूल-कॉलेज भेजने में डर महसूस कर रहे हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर