लाइव टीवी
Elec-widget

हिमाचल कांग्रेस के सीनियर लीडर धर्मवीर धामी का निधन, दो दिन पहले मनाया था बर्थडे

Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 25, 2019, 10:37 AM IST
हिमाचल कांग्रेस के सीनियर लीडर धर्मवीर धामी का निधन, दो दिन पहले मनाया था बर्थडे
वीरभद्र सिंह के साथ धर्मवीर धामी. (FILE PHOTO )

Congress Senior Leader Dharamveer Dhadi Death: धर्मवीर धामी का चंडीगढ़ के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था और एक सप्ताह पहले ही वह घर लौटे थे.

  • Share this:
कुल्लू. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कुल्लू जिले से कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता धर्मवीर धामी का सोमवार तड़के निधन हो गया. धामी ने अपने निवास स्थान सेओबाग में सुबह 5:30 बजे अंतिम सांस ली. उनके निधन से पूरे कुल्लू जिले में शोक की लहर में दौड़ गई. सूचना मिलने के बाद उनके रिश्तेदार, मित्र और अन्य लोगों का उनके घर पर आना शुरू हो गया है. बताया जा रहा है कि सेओबाग में दोपहर को उनका अंतिम संस्कार होगा.

चंडीगढ़ से इलाज करवाकर लौटे थे
धर्मवीर धामी का चंडीगढ़ (Chandigarh) के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था और एक सप्ताह पहले ही धर्मवीर धामी चंडीगढ़ से घर लौटे थे. 23 नवंबर को उन्होंने अपना 74वां जन्मदिन मनाया था. अब दो दिन बाद उनका निधन हो गया.

कई बार बदली पार्टियां

धर्मवीर धामी ने कुल्लू जिला की राजनीति में एक सक्रिय नेता के तौर पर कांग्रेस, भाजपा और बसपा में अपनी भूमिका निभाई. पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh), ठाकुर सिंह भरमौरी के खासनेताओं में रहे, लेकिन बीच में कांग्रेस को अलविदा कह दिया. एक बार आजाद उम्मीदवार और एक बार बहुजन समाज पार्टी से भी चुनाव लड़ा. धूमल के समय मे भाजपा में शामिल हुए थे, लेकिन भाजपा में ज्यादा समय सक्रियता नहीं दिखाई और वापस कांग्रेस में आ गए. कांग्रेस में बतौर महासचिव रहते हुए पिछले विधानसभा चुनाव के समय सक्रियता दिखाई. उन्होंने मनाली विधानसभा में हरी चंद शर्मा को टिकट दिलाकर राजनीति उतारा था. वीरभद्र सिंह से कभी खफा नहीं हुए और पार्टी से बाहर रहकर भी उनके साथ कंधा से कंधा मिलाकर काम करते रहे.

कुल्लू: कांग्रेस के सीनियर नेता धर्मवीर धामी का निधन. (FILE PHOTO)
कुल्लू: कांग्रेस के सीनियर नेता धर्मवीर धामी का निधन. (FILE PHOTO)


मामा से नहीं बनी, 36 का रहा आंकड़ा
Loading...

धर्मवीर धामी अपने मामा राज कृष्ण गौड से राजनीतिक विचारधारा नहीं मिली और राजनीतिक जीवन मे धर्मवीर धामी ने हमेशा मामा राज कृष्ण गौड के विरुद्ध निर्दलीय चुनाव लड़ा. कुल्लू ज़िला में मामा-भान्जे बीच राजनीतिक लड़ाई की अक्सर चर्चा होती थी. धामी मौजूदा समय में कांग्रेस महासचिव एवं मंडी लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी भी थे. इससे पहले वह वीरभद्र सरकार में पथ परिवहन निगम के निदेशक पद पर रहे.

नेताओं ने जताया शोक
कुछ दिन पहले उनकी तबीयत बिगड़ी और वह चंडीगढ़ में अपना इलाज करवा रहे थे. दो दिन पहले ही वे अपना जन्मदिन मनाने घर लौटे और यहां हृदय की गति रुक जाने से मौत हो गई. पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल,वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर, विधायक सुंदर ठाकुर, विधायक विक्रमादित्य सिंह, पूर्व मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी,पूर्व मंत्री सत्य प्रकाश ठाकुर, बंजार के प्रतिपक्ष नेता आदित्य विक्रम सिंह, पूर्व मंत्री कौल सिंह सहित कांग्रेस व भाजपा के तमाम लोगों ने उनके निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है.

ये भी पढ़ें: किन्नौर में आधी रात को SBI का ATM काटा रहा ITBP जवान और साथी गिरफ्तार

CM ने किया अल्ट्रा मॉडर्न बस अड्डे का उद्घाटन, मिलेंगी एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं

चूड़धार यात्रा के दौरान ऑक्सीजन की कमी के चलते 33 वर्षीय डॉक्टर की मौत

नवविवाहित भतीजे को आशीर्वाद देने पैतृक गांव पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कुल्‍लू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 10:11 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...