लाइव टीवी

इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुई कुल्लू की देव संस्कृति, 2200 बजंतरियों ने एक साथ बजाई देव धुन

Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 13, 2019, 7:51 PM IST
इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुई कुल्लू की देव संस्कृति, 2200 बजंतरियों ने एक साथ बजाई देव धुन
2200 बजंतरियों ने सामूहिक देव धुन बजाकर दिया शांति का संदेश

कुल्लू जिले में ऐतिहासिक ढालपुर के रथ मैदान में 2200 बजंतरियों ने सामूहिक तौर पर देवधून बजाकर पूरे विश्व को शांति का संदेश दिया. इस मौके पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की.

  • Share this:
कुल्लू. हिमाचल प्रदेश के कुल्लू (Kullu )जिले में ऐतिहासिक ढालपुर के रथ मैदान में 2200 बजंतरियों  ने सामूहिक तौर पर देवधून (Dev dhun) बजाकर पूरे विश्व को शांति का संदेश दिया. इस मौके पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jairam Thakur) ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की और इस कार्यक्रम में पहुंचने पर कुल्लू जिला कारदार संघ के अध्यक्ष जय सिंह ठाकुर ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को शॉल टोपी भेंटकर स्वागत किया. वहीं इस कार्यक्रम में उपस्थित वन परिवहन युवा सेवा एवं खेल मंत्री गोविंद ठाकुर को भी सम्मानित किया.

 कार्यक्रम में 20 मिनट तक एक साथ बजाई गई देव धुन

ढालपुर के ऐतिहासिक रथ मैदान में 2200 बजंतरियों ने एक साथ करीब 20 मिनट तक देव ध्वनि बजाकर सामूहिक कुल्लू जिला के देवी देवताओं से आह्वान कर पूरे विश्व की शांति के कामना की.  इस कार्यक्रम के मौके पर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड के अधिकारियों ने देव संस्कृति की देवधून के कार्यक्रम की डॉक्यूमेंटेशन कर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड (India Book of Records) में दर्ज किया. वहीं ऐतिहासिक ढालपुर मैदान में 2200 बजंतरियों ने करीब 20 मिनट तक एक साथ देव धुन बजाकर कार्यक्रम को सफल बनाया. कार्यक्रम के आयोजन के लिए इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को मेडल व प्रशस्त्री पत्र भेंट किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस उपलब्धि पर कुल्लू जिला के समस्त देवी देवता कारदार पुजारी बजंतरियों  व गुर संघ सहित कुल्लू जिला की समस्त जनता को बधाई दी.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में देव धुन दर्ज होने पर दी बधाई
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में देव धुन दर्ज होने पर दी बधाई


मूल देव संस्कृति के संरक्षण व संवर्धन के लिए प्रदेश सरकार प्रयासरत- जय राम ठाकुर 

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कहा कि इस दशहरा उत्सव पर इस बार प्रदेश सरकार ने नया प्रयास किया गया है, जिसमें देवी देवताओं से जुड़े देव कारकूनों के द्वारा प्राचीन देव संस्कृति को बचाने के लिए एक अहम कदम उठाया गया है. उन्होंने कहा कि भविष्य में इस कार्यक्रम को और ज्यादा बढ़ावा दिया जाएगा, जिससे अगले बर्ष इस कार्यक्रम को और बड़े स्तर पर आयोजित किया जाएगा. सीएम ने कहा कि इस देव संस्कृति को बचाने के लिए इस मूल देव संस्कृति की देवधुन के कार्यक्रम को बढ़ावा दिया जाएगा, जिसके माध्यम से जो कमियां इस कार्यक्रम में रह गई होगी उन कार्यक्रम को भविष्य में पूरा किया जाएगा. उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव (International Dussehra Festival) के देव संस्कृति के इस कार्यक्रम के माध्यम से विश्व को शांति के लिए देवी देवताओं से आह्वान किया गया है, जिससे पूरे विश्व में शांति और भाई चारा बना रहे.

यह भी पढ़ें- अंतर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा में शिरकत करने 2 दिवसीय दौरे पर कुल्लू पहुंचे सीएम जयराम
Loading...

ये भी पढ़ें - NIT में खुदकुशी प्रयास पर बोले MLA,प्रताड़ना बंद नहीं हुआ तो सड़कों पर उतरेंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कुल्‍लू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 7:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...