कुल्लू: दिखाने को दर्जी, लेकिन काम नशा तस्करी, आरोपी की 42 लाख की संपत्ति सीज
Kullu News in Hindi

कुल्लू: दिखाने को दर्जी, लेकिन काम नशा तस्करी, आरोपी की 42 लाख की संपत्ति सीज
कुल्लू में नशे का कारोबार.

Drugs peddling in Kullu: एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने बताया कि इतने कम समय में इतनी संपत्ति अर्जित करना और इतने बड़े ट्रांसेक्शनस करना किसी भी प्रकार से आरोपी की आय के अनुरूप नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 15, 2020, 9:24 AM IST
  • Share this:
कुल्लू. दिखाने को पेशा दर्जी का है, लेकिन काम चरस तस्करी (Drugs Peddlers) का करता था. मामला हिमाचल के कुल्लू जिले का है. यहां पर पुलिस ने एक नशा तस्कर की 42 लाख रुपये की संपत्ति सीज की है.

जानकारी के अनुसार, आरोपी को बंजार पुलिस ने 13 जुलाई, 2020 को 4 किलो 766 ग्राम चरस मामले में गिरफ्तार किया था.

संपत्ति की जांच की



पुलिस ने इस केस में आरोपी नोक सिंह निवासी दाडूधर, बंजार को दबोचा था. जब इसकी संपत्ति की जानकारी जुटाई गई तो पता चला कि इसके पास लाखों रुपये की प्रॉपर्टी है. आरोपी नोक सिंह अपनी मां, पत्नी और चार बच्चों के साथ रहता है और वह बंजार में टेलर की दुकान चलाता है. आरोपी के परिवार में कोई भी सदस्य सरकारी या प्राइवेट जॉब नहीं करता है. इसके पास कोई बगीचा भी नहीं है. ऐसे में आय का कोई पर्मानेंट साधन नहीं है.
गाड़ी के अलावा जमीन भी खरीदी

आरोपी ने 2018 में नई हुंडई एसेंट गाड़ी करीब 8.5 लाख रुपये में खरीदी. इसके साथ ही व्यक्ति ने मई 2019 में पटवार सर्किल चैहनी में करीब 7.41 लाख रुपये में जमीन खरीदी है. व्यक्ति ने एक नया तीन मंजिला घर भी बनाया है. आरोपी ने अपने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बैंक अकाउंट से करीब ₹28 लाख की ट्रांजेक्शन की है. बंजार बाजार में एक दुकान 3000 रुपये प्रतिमाह किराए पर भी ले रखी है.

क्या बोले एसपी कुल्लू

एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने बताया कि इतने कम समय में इतनी संपत्ति अर्जित करना और इतने बड़े ट्रांसेक्शनस करना किसी भी प्रकार से आरोपी की आय के अनुरूप नहीं है. लिहाजा, पुलिस ने फाइनेंसियल इन्वेस्टिगेशन के बाद पुलिस ने इस केस में आरोपी की करीब 42 लाख रुपए की संपत्ति को सीज और  फ़्रीज किया गया है. उन्होंने बताया कि इस मामले में एक अन्य व्यक्ति सुरेंद्र सिंह पुत्र चुन्नी लाल को भी गिरफ्तार किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज