कुल्लू के काईस बौद्ध मठ में आग, दलाई लामा का विशेष कक्ष जलकर ख़ाक

गोंपा की पांचवी मंजिल पर बिजली के तारों में हुए शॉर्ट सर्किट से आग लगी थी, जिसमे प्राचीन तिब्बती धार्मिक ग्रंथ, महात्मा बुद्ध की एक सोने व दो तांबे की मूर्तियां जल गई. आग से कमरों में रखा अन्य कीमती सामान में जलकर राख हो गया.

Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 14, 2019, 12:03 PM IST
कुल्लू के काईस बौद्ध मठ में आग, दलाई लामा का विशेष कक्ष जलकर ख़ाक
काईस मठ में लगी आग.
Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 14, 2019, 12:03 PM IST
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के काईस में तिब्बती गोंपा (बौद्ध मठ) की पांचवी मंजिल में अचानक भीषण आग लग गई, जिसके बाद स्थानीय लोगों ने दमकल को सूचना दी. सूचना के बाद पहुंची दमकल ने स्थानीय लोगों की सहायता से कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. आग लगने के बाद काफी देर तक क्षेत्र में अफरा-तफरी का माहौल बना रहा. बताया जा रहा है कि आग में धर्मगुरु दलाई लामा का विशेष कक्ष जलकर राख हो गया.

जानकारी के मुताबिक, गोंपा की पांचवी मंजिल पर बिजली के तारों में हुए शॉर्ट सर्किट से आग लगी थी, जिसके बाद कमरे में लगे पर्दे ने आग पकड़ ली. देखते ही देखते आग ने तीन कमरों को अपनी चपेट में ले लिया. आग से तीन कमरे जलकर राख हो गए.

इनमें प्राचीन तिब्बती धार्मिक ग्रंथ, महात्मा बुद्ध की एक सोने व दो तांबे की मूर्तियां जल गई. आग से कमरों में रखा अन्य कीमती सामान में जलकर राख हो गया. पुलिस प्रशासन व राजस्व विभाग की टीम ने आग से करीब 35 लाख रुपये के नुकसान का आकलन किया है.



कुल्लू उपायुक्त यूनुस खान ने बताया कि काईस गोंपा में आगजनी की घटना से करीब 35 लाख रुपये के नुकसान का आंकलन किया गया है. इसकी रिपोर्ट संस्कृति मंत्रालय को भेजी जाएगी और प्रशासन की तरफ से भी गोंपा के नुकसान को भरने के लिए हरसंभव आर्थिक सहायता की जाएगी.

यह भी पढ़ें-  रोहडू के सेरीबसा गांव में लगी आग, 3 मकान राख, डेढ़ करोड़ का नुकसान

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर