अपना शहर चुनें

States

पांच कोठी सराज के लोगों को मिला अपना विधायक, सुरेंद्र शौरी को मिली जीत

पांच कोठी सराज का विधायक बनने पर लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई
पांच कोठी सराज का विधायक बनने पर लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के बंजार विधानसभा क्षेत्र के पांच कोठी सराज के लोगों का अपना विधायक होने का सपना पूरा हो गया.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के बंजार विधानसभा क्षेत्र के पांच कोठी सराज के लोगों का अपना विधायक होने का सपना पूरा हो गया. भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्र शौरी की जीत से पांच कोठी सराज के लोग खुशी से झूम रहे हैं. भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्र शौरी की जीत में भी पांच कोठी सराज के लोगों का बहुत बड़ा योगदान है.

भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्र शौरी सात राउंड तक 5237 पांच वोटों से पीछे चल रहे थे, लेकिन पांच कोठी सराज की गितनी शुरू होते ही सुरेंद्र शौरी का ग्राफ लगातार बढ़ता गया और उन्हें चुनावों में 3237 वोटों से जीत दिलाई. बंजार क्षेत्र के पहले विधायक दिले राम शवाब के बाद पांच कोठी सराज से कोई भी व्यक्ति विधायक नहीं बन सका.

लगातार दो बार बंजार के विधायक दिले राम शवाब को 1977 में जनता दल के प्रत्याशी महेश्वर सिंह ने मात दी. इसके बाद 1977 और 1982 में महेश्वर सिंह बंजार विस क्षेत्र के विधायक रहे. महेश्वर सिंह कुल्लू के राज परिवार से संबंध रखते हैं और कुल्लू के राजा हैं. इसके बाद 1985 में कांग्रेस के सत्यप्रकाश ठाकुर बंजार के विधायक बने. सत्यप्रकाश ठाकुर भुट्टी क्षेत्र से संबंध रखते हैं.



वर्ष 1990 में कुल्लू के कंवर कर्ण सिंह बंजार के विधायक बने. वर्ष 1993 में सत्यप्रकाश ठाकुर को बंजार का विधायक चुना गया. वर्ष 1998 में कर्ण सिंह को बंजार का विधायक चुना गया. वर्ष 2003 और 2007 में भुंतर क्षेत्र के पंड़ित खीमी राम को बंजार का विधायक चुना गया.
वर्ष 2012 में कर्ण सिंह को बंजार विधान सभा क्षेत्र से विधायक चुना गया. कई सालों के बाद किसी दल ने पांच कोठी से उम्मीदवार मैदान में उतारा था और इसका असर भी चुनाव परिणाम में साफ तौर पर देखा गया.

सात राउंड तक कांग्रेस के प्रत्याशी आदित्य विक्रम सिंह करीब 5237 वोटों से लीड कर रहे थे. लेकिन पांच कोठी की गितनी शुरू होते ही भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्र शौरी ने कांग्रेस प्रत्याशी की लीड को तोड़कर 3237 मतों से जीत दर्ज की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज