हिमाचल: ग्रीनमैन किशन लाल अंतरराष्ट्रीय फिल्म में पर्यावरण संरक्षण का पाठ पढ़ाएंगे

देश और विदेश में पर्यावरण (ENVIRONMENT) की अलख जगा रहे प्रसिद्ध पर्यावरणविद् और ग्रीनमैन की उपाधि से नवाजे जा चुके किशन लाल अब अंतरराष्ट्रीय फिल्म (INTERNATIONAL FILM) में नजर आएंगे.

Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 4, 2019, 11:08 AM IST
Tulsi Bharti | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 4, 2019, 11:08 AM IST
देश और विदेश में पर्यावरण (ENVIRONMENT) की अलख जगा रहे प्रसिद्ध पर्यावरणविद् और ग्रीनमैन की उपाधि से नवाजे जा चुके किशन लाल अब अंतरराष्ट्रीय फिल्म (INTERNATIONAL FILM) में नजर आएंगे. पर्यावरण संरक्षण को लेकर बनने जा रही विदेशी फिल्म इंडियन एन्वायरमेंट एंड सोशल एजुकेशनल वर्ल्ड लाइफ में मनाली के पर्यावरणविद् किशन लाल स्कूल के बच्चों को पर्यावरण का पाठ पढ़ाते नजर आएंगे. निर्माता निर्देशक कोरलोस के बैनर तले बनने वाली फिल्म इंडियन इन्वायरमेंट एंड सोशल एजुकेशनल वर्ल्ड लाइफ की शूटिग गत दिनों लेह-लद्दाख में हुई. इस फिल्म में पर्यावरणविद किशन लाल ने 15 मिनट की भूमिका अदा की है, जिसमें वह स्कूली छात्र व छात्राओं को पर्यावरण को बचाने और हमारे जीवन में पेड़-पौधों की अहमियत के बारे में समझा रहे हैं.

किशन लाल को मिले हैं ये अवॉर्ड

Kishan Laal-किशन लाल
इस फिल्म में पर्यावरणविद किशन लाल ने 15 मिनट की भूमिका अदा की है.


द ग्रीन मैन अवॉर्ड से सम्मानित किशन लाल ठाकुर को 27 सितंबर 2008 को भूटान की फीडा इंटरनेशनल एन्वायरमेंट एसोसिएशन ने द ग्रीन मैन अवार्ड से नवाजा. उन्हें अन्य कई राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिल चुके हैं. इसके साथ ही रॉयल भूटान एन्वायरमेंट एसोसिएशन से 2008-2009 में एप्रीसिएशन अवॉर्ड भी मिल चुका है. यह अवॉर्ड उन्हें रोहतांग दर्रे में बर्फीले तूफान से 35 लोगों को बचाने पर दिया गया था.

जास्कर, कारगिल, लेह-लद्दाख में हुई है इस फिल्म की शूटिंग

इंडियन एन्वायरमेंट एंड सोशल एजुकेशनल वर्ल्ड लाइफ फिल्म के बारे में जानकारी देते हुए पर्यावरणविद एवं ग्रीनमैन किशन लाल ने बताया कि यह एक विदेशी फिल्म है और यह पर्यावरण के संरक्षण पर ही केंद्रित है. उन्होंने बताया कि फिल्म की शूटिंग जास्कर, कारगिल, लेह-लद्दाख में हुई है. इसके अलावा नागालैंड, सिक्किम, नेपाल सहित भारत के कई जनजातीय क्षेत्रों में भी फिल्म के दृश्यों को शूट किया जा रहा है.

फिल्म के ​जरिये बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का संदेश भी देंगे
Loading...

उन्होंने बताया कि करीब छह माह में फिल्म बनकर तैयार हो जाएगी. उन्होंने बताया कि उनका मुख्य उद्देश्य पर्यावरण को संरक्षित करना है. फिल्म के निर्माता व निर्देशक भी लोगों का ध्यान पर्यावरण के संरक्षण की ओर खींच रहा है. वे इस फिल्म के द्वारा पर्यावरण व बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ संदेश पूरे विश्व को देंगे.

यह भी पढ़ें: ग्लोबल इन्वेस्टर के हाथों प्रदेश को बेचने की तैयारी, आला अधिकारी कर रहे मदद: मुकेश अग्निहोत्री

फिर भड़की धवाला की ज्वाला, कहा-हमारे तालमेल में घी डालने का काम बंद करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कुल्‍लू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 4, 2019, 11:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...